Loading...    
   


MP CORONA: 20 जिलों में मौत का खतरा, 23 जिलों में महामारी का, जांच में हर चौथा आदमी पॉजिटिव UPDATE NEWS

भोपाल
। जैसी उम्मीद जताई गई थी उससे ज्यादा खतरनाक स्थिति है। पॉजिटिविटी रेट जैसे सोशल मीडिया पर इंफेक्शन रेट भी बताया जाता है बढ़कर 22.8% हो गई। यानी जांच में हर चौथा आदमी पॉजिटिव पाया जा रहा है। कल 16 जिले बेहद खतरनाक स्थिति में थे, आज यह संख्या बढ़कर 20 हो गई। कल 19 जिलों में महामारी का खतरा था, आज इस लिस्ट में 23 जिलों का नाम है। 

मध्य प्रदेश सबसे खतरनाक स्थिति वाले जिलों की संख्या 16 से बढ़कर 20 हुई

इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन, सागर, रतलाम, बैतूल, रीवा, विदिशा, बड़वानी, सतना, बालाघाट, शहडोल, कटनी, राजगढ़, रायसेन, शाजापुर और टीकमगढ़ ऐसे जिले हैं जहां कोरोनावायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 1000 से अधिक चल रही है। इंदौर में 10000, भोपाल 8000 और ग्वालियर 5000 से अधिक के साथ सबसे खतरनाक स्थिति में है। 

मध्य प्रदेश खतरनाक स्थिति वाले जिलों की संख्या 19 से बढ़कर 23 हुई

आगर मालवा, अशोकनगर, मंडला, पन्ना, उमरिया, दतिया, गुना, सीधी, सिंगरौली, अनूपपुर, छतरपुर, सिवनी, मुरैना, दमोह, मंदसौर, सीहोर, नीमच, झाबुआ, छिंदवाड़ा, शिवपुरी, नरसिंहपुर, धार और खरगोन ऐसे जिले हैं जहां एक्टिव केस की संख्या 1000 से कम लेकिन 500 से ज्यादा है। इन इलाकों में संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। नागरिकों को सावधान रहने की जरूरत है। 

MADHYA PRADESH COVID19 UPDATE NEWS 18 APRIL 2021 

मध्य प्रदेश पुलिस मुख्यालय में भारतीय पुलिस सेवा के पांच वरिष्ठ अधिकारी कोरोनावायरस पॉजिटिव पाए गए हैं। 
पिछले 7 दिनों में हमीदिया अस्पताल के 20 से ज्यादा जूनियर डॉक्टर संक्रमित हो चुके हैं। 
मध्य प्रदेश शासन के पूर्व मंत्री एवं इंदौर में विधायक जीतू पटवारी पॉजिटिव। 
दमोह में उप चुनाव का मतदान खत्म होते ही कर्फ्यू लागू। 
भारतीय रेलवे अब ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलेगी। ऑक्सीजन गैस तेजी से पूरे भारत में पहुंचाई जाएगी। 
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दावा किया है कि मध्य प्रदेश में बिस्तरों की संख्या 40784 हो गई है। 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि 30 अप्रैल तक कोई घर से बाहर न निकलें, जबकि ज्यादातर जिलों में 26 अप्रैल तक के लिए कर्फ्यू लगाया गया है। 
संकटकाल में भोपाल सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर की भूमिका को लेकर आज भी सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं का दौर चलता रहा। 
कमलनाथ ने कहा: सरकार को अपनी नाकामी स्वीकार करनी चाहिए। आग लगने के बाद यह लोग कुआं खोदने की तैयारी नहीं सिर्फ बात कर रहे हैं। 
जबलपुर में भाजपा का एक पदाधिकारी अपने परिजनों को ऑक्सीजन और इंजेक्शन नहीं दिलवा पाया। नाराज होकर उसने शिवराज सिंह चौहान को निकम्मा कहा। 
भिंड में ऑक्सीजन के लिए कोरोनावायरस से संक्रमित मरीज को सड़क पर बैठकर धरना देना पड़ा। 
शहडोल में ऑक्सीजन की कमी से 12 घंटे में 12 मरीजों की मौत हो गई। कमिश्नर के जाने के बाद रात 12:00 बजे ऑक्सीजन बंद हो गई थी। दोपहर 12:00 बजे फिर से सप्लाई शुरू की गई। 
कोरोनावायरस संक्रमण के कारण मध्य प्रदेश का लोकायुक्त मुख्यालय बंद कर दिया गया है। 
छिंदवाड़ा में अस्पताल के दरवाजे पर कोरोनावायरस के मरीजों को लगाए जाने वाला एंटीबैक्टीरियल इंजेक्शन रेमडेसिवीर ब्लैक में बेचा जा रहा था। पकड़ा गया। 
वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा कोरोनावायरस संक्रमित पाए गए हैं। 
उज्जैन में कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता नूरी खान ने COVID वार्ड जाकर वहां का वीडियो सार्वजनिक किया। मरीज जमीन पर पड़े हुए थे एक बिस्तर पर दो और दो से अधिक मरीज थे। 
भोपाल में रेमडेसिविर इंजेक्शन ₹20000 में बेचा जा रहा था। 4 लोगों को पकड़ा गया है। इनमें से एक डॉक्टर है और दो मेडिकल स्टोर संचालक।


MADHYA PRADESH CORONA BULLETIN 18 APRIL 2021 DISTRICT WISE STATUS LIST 




18 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here