Loading...    
   


GWALIOR: हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट पकड़ा, दिल्ली व कोलकाता से आई थी लड़कियां - MP NEWS

ग्वालियर।
मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर में दिल्ली, कोलकाता की कॉल गर्ल्स को वाया शताब्दी और फ्लाइट से बुलाकर शहर में हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट चल रहा था। शुक्रवार दोपहर कलेक्टर कार्यालय के पीछे एक मकान से पुलिस ने हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट पकड़ा है।   

मकान पर आयुष्मान गेस्ट हाउस एंड रेस्टोरेंट का बोर्ड लगाकर शहर के दो युवक सेक्स रैकेट चला रहे थे। यहां से पुलिस ने दिल्ली की चार, कोलकाता की एक लड़की सहित पांच कॉल गर्ल को पकड़ा है। इनके साथ अपत्तिजनक हालत में एक शहर का युवक भी पकड़ा गया है, जबकि सेक्स रैकेट चलाने वाले दोनों ही युवक फरार हो गए हैं। फिलहाल पुलिस इस हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट के पीछे की कहानी तलाश रही है।

काफी समय से शहर के पॉश एरिया सिटी सेंटर, न्यू कलेक्ट्रेट के पीछे हाई प्रोफाइल लड़कियों के आने और जाने का पता पुलिस को चला था। लगातार सूचनाएं मिल रहीं थी। यहां तक भी पता लगा था कि हर 10 से 15 दिन में नए चेहरे देखने को मिलते हैं। इस पर पुलिस अफसरों ने सूचना की तस्दीक कराई। जिस घर में लड़कियां ठहरी थीं वहां दिन और रात में लग्जरी कारें खड़ी दिखाई दीं। मकान से अनैतिक गतिविधिया होना पता लगा। इस पर शुक्रवार दोपहर DSP विजय सिंह भदौरिया, विश्वविद्यालय थाना TI रामनरेश यादव, SI सुरूचि शिवहरे ने अलग-अलग टीमों के साथ कलेक्ट्रेट के पीछे मुखर्जी पेट्रोल पंप के पास एक मकान में दबिश दी। 

पुलिस के दबिश देते ही वहां हड़कंप मच गया। अंदर एक रूम में लड़की और लड़का अपत्तिजनक अवस्था में थे। बाहर तीन और लड़कियां बैठी थीं। पुलिस ने मौके से 5 लड़कियां, एक लड़के को हिरासत में लिया है। जब उनको थाना लाकर पूछताछ की तो सभी लड़कियों ने कुबूल किया है कि वह अनुज उर्फ अंशु शिवहरे निवासी लाला का बाजार, गौरव जैन के कहने पर दिल्ली और कोलकाता से यहां आए थे। इस मकान में सेक्स रैकेट चल रहा था। इस खुलासे के बाद पुलिस के पैरों तले जमीन खिसक गई है। अभी अनुज और गौरव पुलिस के हाथ नहीं आए हैं।

पकड़ी गई लड़कियां कॉल गर्ल हैं। इनमें से चार दिल्ली के लक्ष्मीनगर और लाजपत नगर की हैं, जबकि एक कोलकाता के सिलीगुड़ी इलाके की है। जब इनसे पूछताछ की गई तो दिल्ली की चारों लड़कियों में से दो अभी 7 दिन पहले ही शताब्दी एक्सप्रेस से आई थीं, जबकि कोलकाता की कॉल गर्ल को वाया फ्लाइट लाया जाना बताया गया है। पुलिस इसकी भी तस्दीक कर रही है।

पकड़ी गईं कॉल गर्ल की उम्र 20 से 25 साल के बीच है। उन्होंने पुलिस के सामने कई खुलासे किए हैं। पकड़ी गई लड़कियों में दिल्ली की सोनाली(बदला हुआ नाम) ने पुलिस के सामने खुलासा किया है कि वह 7 से 10 दिन के लिए ही आती थीं। उनकी प्रत्येक दिन 10 हजार रुपए में आना तय हुआ था। इसके साथ ही कोलकाता की मिनारा(बदला हुआ नाम) की उम्र सबसे कम है उसे वहां के एक एजेंट ने यहां भेजा था।

लड़कियों ने कहा कि उनको गुरुवार को निकलना था, लेकिन उससे पहले ही 7 दिन का लॉकडाउन लग गया, यदि यह लॉकडाउन नहीं लगता तो वह यहां से निकल चुकी होतीं। साथ ही उन्होंने यह भी खुलासा किया है कि 3 महीने से यहां सेक्स रैकेट चल रहा था। अब सवाल यह उठता है कि अभी तक पुलिस की नाक के नीचे यह सेक्स रैकेट कैसे पनपता रहा। पकड़ी गई कॉल गर्ल्स ने यह भी खुलासा किया कि है कि पिछले एक साल में कोरोना और लॉकडाउन ने उनका पूरा धंधा खराब कर दिया है। धंधा है नहीं और कस्टमर को आकर्षित करने के लिए खर्चा उतना ही करना पड़ता है।

ऐसा पता लगा है कि सेक्स रैकेट चलाने वाले अनुज और गौरव शहर के ही रहने वाले हैं। इन्होंने ऑन लाइन कई ग्रुप बना रखे हैं। यह मोबाइल पर ही लड़कियों के फोटो भेजकर कस्टमर से डील करते हैं। कस्टमर को इनके ही अड्‌डे पर आना होता है। दोनों के बारे में पुलिस जानकारी जुटा रही है। ऐसा पता लगा है कि यहां एक घंटे के 1 हजार रुपए तक चुकाने पड़ते हैं। घर से पुलिस को काफी मात्रा में अपत्तिजनक सामग्री मिली है। सेक्स रैकेट जिस घर में चल रहा था वह किसी और का है। अनुज ने उसे किराए पर लिया था। बाहर आयुष्मान गेस्ट हाउस एंड रेस्टोरेंट का बोर्ड लगा दिया था। जिससे कोई शक न करे।

एक मकान में सेक्स रैकेट पकड़ा गया है। 5 युवतियां और एक युवक मिला है। पूछताछ कर FIR दर्ज की जा रही है। सेक्स रैकेट के सरगना दोनों युवकों की तलाश की जा रही है। 
रामनरेश यादव, TI थाना विश्वविद्यालय

16 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here