Loading...    
   


MP के 4 जिलों में CORONA कंट्रोल, मौत की दहशत के बीच जिंदगी की उम्मीद

भोपाल
। चारों ओर से भयभीत कर देने वाली खबरों के बीच उम्मीद की किरण नजर आ रही है। मध्य प्रदेश के 4 जिलों में कोरोनावायरस के संक्रमण पर सफलतापूर्वक नियंत्रण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी चारों जिलो की उन सभी टीमों को शाबाशी दी है जो संक्रमण की रोकथाम के लिए काम कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर मांगी जा रही है और भोपाल समाचार डॉट कॉम समर्थन करता है कि इन चारों जिलों में कोरोनावायरस के संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए जितने भी शासकीय और गैर शासकीय लोग काम कर रहे हैं उन सबको पुरस्कार, सम्मान, इंसेंटिव, इंक्रीमेंट और टैक्स में छूट, जो भी संभव हो, दिया जाना चाहिए।

चारों जिलों की पॉजिटिविटी रेट 10% से कम जबकि मध्य प्रदेश की औसत 22%

मध्य प्रदेश में जहां एक और संक्रमित नागरिकों की संख्या बढ़कर 60 हजार हो गई है और ओवरऑल पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 22.1% हो गया है वहीं दूसरी ओर खंडवा, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा और देवास चार ऐसे जिले हैं जहां संक्रमण का खतरा अधिक होने के बावजूद स्थिति को नियंत्रण में कर लिया गया है। महामारी के मामले में सबसे महत्वपूर्ण होती है पॉजिटिविटी रेट। खंडवा में पॉजिटिविटी रेट 4.6%, बुरहानपुर 4.90%, छिंदवाड़ा 9.73% और देवास 6.91% रह गई है। जब की शुरुआत में पॉजिटिविटी रेट 25% के आसपास थी। 

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए, जनता से अपील की

होम आयसोलेशन में टैलीमैडिसिन सुविधा सुनिश्चित करें
भोपाल में शासकीय कर्मचारियों द्वारा वर्क फ्रोम होम व्यवस्था (आवश्यक सेवाएं छोड़कर)
सभी परीक्षाएं घर बैठे ही ओपन बुक व ऑनलाइन माध्यम से।
सैंपल देने के बाद व्यक्ति घर पर ही रहे।
जिन गांवों में कोरोना प्रकरण अधिक है वहां आयसोलेशन सेंटर बनाएं।
दूसरे प्रदेशों से आने वाले मजदूरों को ग्राम में आइसोलेट करें।

17 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here