Loading...    
   


BHIND में ऑक्सीजन के लिए धरने पर बैठा कोरोनावायरस पॉजिटिव मरीज - CORONA BREAKING NEWS

भिंड।
कोविड केयर सेंटर में इलाज नहीं मिलने का आरोप लगाकर संक्रमित युवक जिला अस्पताल परिसर में धरने पर बैठ गया। धरने पर बैठकर युवक ने चिल्ला-चिल्लाकर बताया कि वह कोविड संक्रमित है। तीन घंटे वार्ड में लेटा रहा, लेकिन कोई भी उसे अटेंड करने के लिए नहीं आया है। उसने आरोप लगाया कि उसे पल्स आक्सोमीटर तक नहीं लगाया गया है, जबकि सांस लेने में तकलीफ हो रही है। इस दौरान कई लोगों ने संक्रमित का वीडियो बनाया। बाद में उसे किसी तरह से समझाकर कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया है। डाक्टराें का कहना है वह अब पूरी तरह से स्वस्थ है। उसका आक्सीजन लेवल भी सही है।

कोविड केयर सेंटर के बिस्तर पर लिटा दिया, कोई देखने तक नहीं आया

भिंड शहर के रंजना नगर निवासी प्रवीण शर्मा को खांसी, बुखार की शिकायत थी। वे रविवार सुबह जिला अस्पताल परिसर फीवर क्लीनिक पहुंचे। यहां उन्होंने RAT (रेडिड एंटीजन टेस्ट) कराया। रिपोर्ट पाजिटिव आने पर उन्हें कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया। दोपहर करीब एक बजे प्रवीण शर्मा कोविड केयर सेंटर से बाहर निकलकर जिला अस्पताल परिसर में फीवर क्लीनिक के सामने धरने पर बैठ गए।

कोविड केयर सेंटर में ऑक्सीजन लेवल तक की जांच नहीं कर रहे

प्रवीण ने चिल्ला-चिल्लाकर कहा कि वह पाजीटिव है। उसे कोविड सेंटर में भर्ती तो किया गया, लेकिन पिछले तीन घंटे से कोई देखने के लिए नहीं आया। प्रवीण का कहना था कि उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही है। बोलते में वह हांफ भी रहा था। उसने कहा कि हद तो यह है कि सेंटर में उसका ऑक्सीजन लेवल जांचने के लिए पल्स आक्सोमीटर तक नहीं लगाया गया है।

बीच रास्ते में धरना देने के बाद MBBS नहीं आयुष डॉक्टर समझाने आया

इस दौरान आयुष डॉक्टर उसे मनाने आए, लेकिन उसने कहा कि अब यहां से नहीं जाउंगा। चाहो तो पूरा प्रशासन को बुला लो या सीएमएचओ को बुला लो। हालांकि‍ बाद में प्रवीण को समझाकर वार्ड में ले जाया गया। परिसर में धरने के दौरान एक युवक पीछे से आता है तो प्रवीण उसे खुद दूर कर देते हैं। यहां प्रवीण ने समझदारी दिखाई है। वे बार-बार बता रहे थे कि कोविड पाज‍िटिव हैं, ताकि कोई अनजान उनके संपर्क में नहीं आए।

ग्वालियर से लौटने के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई

बताया गया है कि करीब पांच दिन पहले प्रवीण शर्मा को UTI की परेशानी थी। इसका इलाज कराने के लिए वे ग्वालियर गए थे। ग्वालियर जाने से पहले प्रवीण ने RAT जांच कराई थी, तब रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इसके बाद प्रवीण इलाज के लिए ग्वालियर गए थे। अब रविवार को उन्हें परेशानी हुई तो वे दोबारा जांच कराने के लिए आए। अब रिपोर्ट पाजीटिव आई है। यानी अंदेशा है कि ग्वालियर से प्रवीण पाज‍िटिव होकर आए हैं। डॉक्टर ने उनका आक्सीजन लेवल ठीक बताया है।

हम तो सभी मरीजों की बेहतर देखभाल करते हैं: सिविल सर्जन का दावा

कोविड केयर सेंटर में सभी मरीजों की बेहतर देखभाल की जा रही है। युवक को कुछ देर पहले ही भर्ती किया गया था। उसे इलाज दिया जा रहा था कि इसी दौरान वह बाहर आ गया। समझाकर उसे भर्ती किया गया है। आक्सीजन लेवल भी बेहतर है।
डा. अनिल गोयल, सिविल सर्जन, जिला अस्पताल भिंड

18 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here