Loading...    
   


Tiktok App: टि्वटर का हाथ पकड़ कर फिर से इंडिया में आने वाला है / TECH NEWS

भारत में सोशल मीडिया को चुनौती देने वाला चीन का सबसे लोकप्रिय मोबाइल ऐप टिक टॉक एक बार फिर भारत में आने की तैयारी कर रहा है। इस बार वो ट्विटर का हाथ पकड़कर आने वाला है। खबर आ रही है कि जिस तरह व्हाट्सएप को फेसबुक में खरीद लिया था उसी तरह टिक टॉक को ट्विटर खरीदने वाला है। 

15 अगस्त तक टिक टॉक एप के भाग्य का फैसला हो जाएगा

दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति ने टिक टॉक को प्रतिबंधित करने वाले कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। हालांकि यह आदेश 15 सितंबर से प्रभावी होगा। इस दौरान टिक टॉक को या तो कोई अमेरिकी कंपनी खरीद ले अन्यथा उसे अमेरिका से भी बोरिया बिस्तर समेटना होगा। सूत्रों के मुताबिक ऐसी भी चर्चा है कि ट्विटर के शेयरधारकों में से एक निजी इक्विटी फर्म सिल्वर लेक ने सौदे को पूरा करने के लिए मदद देने की पेशकश की है।

इस मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने कहा है कि माइक्रो ब्लागिंग साइट ट्विटर, माइक्रोसॉफ्ट को पीछे छोड़ते हुए 45 दिनों में इस सौदे को अमलीजामा पहना देगा। सूत्रों के मुताबिक ट्विटर का बाजार मूल्य 30 अरब डॉलर के आसपास है, जो टिक टॉक की एसेट्स के कीमत के बराबर है। ऐसे में ट्विटर को सौदे के लिए अतिरिक्त पूंजी जुटानी होगी।

इसलिए बढ़ाया है डील का हाथ
ट्विटर चीनी एप को खरीदने के लिए इसलिए भी आगे बढ़ा है, क्योंकि उसे लगता है कि माइक्रोसाफ्ट की तुलना में उसे कम रेगुलेटरी नियमों का पालन करना पड़ेगा। साथ ही उसे चीन से पड़ने वाले किसी तरह के दबाव का भी सामना नहीं करना पड़ेगा, क्योंकि ट्विटर चीन में नहीं है। ट्कि टॉक, बाइट डांस और ट्विटर ने मीडिया में चल रही खबरों पर किसी तरह की टिप्पणी नहीं की है। उधर, माइक्रोसाफ्ट ने रविवार को कहा कि वह सौदे के मध्य सितंबर तक पूरा होने की उम्मीद कर रहे हैं।

10 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

इंदौर में BF संग लिव इन में रह रही लड़की ने सुसाइड किया, प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज
ज्यादातर जानवर पेट के बल सोते हैं तो फिर इंसान पीठ के बल क्यों सोता है
मध्य प्रदेश में 13000 सरकारी स्कूलों को हमेशा के लिए बंद करने की तैयारी
ग्वालियर में पुलिस का गोपनीय पत्र सोशल मीडिया पर वायरल
देवपूजा वाली घंटी गोल क्यों होती है, चौकोर क्यों नहीं होती
BSNL का फाइबर 499 रुपए में सब कुछ अनलिमिटेड
कांग्रेस पार्टी में मेरी योग्यता नहीं जाति पूछी गई: पूर्व IAS शशि कर्णावत
कुत्ते अपनी दुम हिलाते-दबाते क्यों हैं, मक्खी भगाते हैं या कोई संकेत देते हैं
यदि किसी के पास खोटे बांट या तराजु मिल जाए तो उसका क्या होगा
भारत में स्टेप बाय स्टेप स्कूल खोलने की तैयारी


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here