Loading...    
   


इंदौर में बाहर निकलने वाले गिरफ्तार होंगे, वैष्णव यूनिवर्सिटी अस्थाई जेल घोषित | INDORE NEWS

इंदौर। कलेक्टर मनीष सिंह 100% सख्ती के मूड में आ गए हैं। उन्होंने ऐलान किया है कि घर से निकलने वाले लोगों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। सिर्फ मेडिकल इमरजेंसी की स्थिति में ही किसी को घर से निकलने की अनुमति है। सब्जी की खरीदारी करने वालों को भी गिरफ्तार कर दिया जाएगा। इसके लिए वैष्णव यूनिवर्सिटी को अस्थाई जेल घोषित कर दिया है। गिरफ्तार किए गए लोग यहां पर रखे जाएंगे। 

प्रशासन ने ऐलान कर दिया है कि किराना की दुकान दार, सब्जी विक्रेता या अन्य प्रकार के दुकानदारों ने यदि दुकानें खुली रखी तो उन्हें गिरफ्तार कर दिया जाएगा। महत्वपूर्ण बात यह है कि जो इन दुकानों या ठेलों से खरीदारी करेगा, उसे भी गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। इसके लिए कलेक्टर मनीष सिंह ने सांवेर रोड स्थित श्री वैष्णव विद्यापीठ विश्वविद्यालय के प्रथम तल को 30 दिन तक अस्थायी जेल घोषित किया है। 

अब तक 8 दुकानदारों को गिरफ्तार किया, अब ग्राहकों को भी करेंगे

किराना की दुकानें खोलने, सब्जियां बेचने पर पुलिस ने आठ लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तार किया है। शहर में 60 से ज्यादा लोगों पर कार्रवाई की है। तिलक नगर पुलिस ने भी कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर छह पर केस दर्ज किया। इंदौर में अब तक 151 कोरोना पॉजिटिव पाए गए। यहां इस महामारी से मरने वालों की संख्या 13 हो गई है। एक अच्छी खबर भी आई। सोमवार को कोरोना से जंग जीतकर 11 मरीज अस्पताल से डिस्चार्ज हो गए। 

06 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

मध्यप्रदेश में लॉक डाउन कहां बढ़ेगा, कहां नहीं: मुख्यमंत्री की बैठक में मिले संकेत
कोर्ट में गीता पर हाथ रखकर कसम क्यों खिलाते थे, रामायण पर क्यों नहीं है



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here