Loading...    
   


दुबई में बर्बाद हुए 3 भारतीय ड्राइवरों को 41 करोड़ की JACKPOT LOTTERY

नई दिल्ली। दुबई में टैक्सी चलाने वाले तीन भारतीय ड्राइवर कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण बर्बाद हो गए थे। वह अपनी टैक्सी बेचने की तैयारी में थे इसी बीच उनकी 41 करोड़ की जैकपोट लॉटरी लग गई। भारतीय मूल के तीन और ड्राइवर जो शाम को पूरी तरह बर्बाद हो चुके थे रातों-रात करोड़पति बन गए। 

जिजेश कोरोथन नाम की लॉटरी में मिले 41 करोड़

दुबई के सबसे लोकप्रिय अखबार खलीज टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, लॉटरी जिजेश कोरोथन के नाम थी। उसने दोस्त शाहजहां कुट्टिकट्टिल और शनोज बालकृष्णन के साथ मिलकर टिकट खरीदा था। इसलिए अब इनाम की रकम भी तीनों ने आपस में बांटने का फैसला लिया है। 

टैक्सी बेचकर केरल लौटने वाले थे

जिजेश ने बताया, ''हम तीनों ने मिलकर कुछ दिनों पहले ही लिमोसिन (लग्जरी गाड़ी) चलाने का काम शुरू किया था। लिमोसिन खरीदने के लिए LOAN लिया था लेकिन कोरोनावायरस के चलते टूरिज्म सेक्टर पूरी तरह चौपट हो गया। हमारा काम भी बंद हो चुका है। इसलिए केरल लौटने की तैयारी में थे। कार की ईएमआई भरने के लिए पैसे नहीं थे। इसलिए इसे बेचकर कर्ज चुकाने का मन बना लिया था लेकिन ग्राहक से मीटिंग से पहले ही अचानक हमारी किस्मत बदल गई। अब हम आसानी से EMI भर पाएंगे और फिर से काम शुरू कर पाएंगे।'' 

लॉटरी की रकम से लग्जरी टैक्सी का कारोबार करेंगे

जिजेश कहते हैं कि वह यह रकम अपनी बेटी की पढ़ाई पर खर्च करेंगे। इसके अलावा शेष रकम अपने लिमोसिन सर्विस के बिजनेस को बढ़ाने में लगाएंगे। यह लॉटरी हमारे लिए जीवनदान की तरह है। जितेश बताते हैं कि यह काम कुछ दिन पहले ही तीनों ने मिलकर शुरू किया था। इसके पहले वह दूसरों की गाड़ियां चलाते थे।

पिछले साल बिजनेसमैन और ड्राइवर ने भी जीते थे इनाम

2019 में भारतीय बिजनेसमैन प्रबीन थॉमस कि किस्मत भी इस लॉटरी की वजह से बदल चुकी है। थॉमस ने दुबई में 6 करोड़ की लॉटरी जीती थी। प्रबीन भी केरल के रहने वाले हैं। इसके अलावा केरल के जॉन वर्गीज ने लॉटरी में 21 करोड़ रुपए जीते थे। वर्गीज दुबई में प्राइवेट कंपनी में ड्राइवर का काम करते थे।

03 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

उज्जवला योजना: फ्री सिलेंडर का पैसा किसके अकाउंट में कब आएगा, पढ़िए
सीएम सर, क्या कोरोना ड्यूटी में सभी कर्मचारियों को समान लाभ मिलेंगे
भागकर घर में छुपा कोरोना मरीज, 12 घरवालों को पॉजिटिव कर गया
मंगलयान की तरह यदि AC को भी बार-बार ऑन-ऑफ करें तो क्या आधी बिजली खर्च होगी
इंदौर की महिला डॉक्टर लखनऊ से संक्रमित होकर आई थी: MGM रिपोर्ट
इंदौर में डॉक्टरों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, पथराव, संक्रमण की जांच करने गए थे
योद्धाओं की मूर्ति में घोड़ों की टांगे कभी ऊपर कभी नीचे क्यों होती है
MP BOARD 10th-12th के बाकी बचे पेपर कब होंगे, यहां पढ़िए


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here