Loading...    
   


किसानों के लिए एडवाइजरी जारी | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। कृषि मंत्रालय में रजिस्टर्ड किसानों के पास एक मैसेज गया है। इसने अन्नदाताओं में बेचैनी और बढ़ा दी है। इसमें कहा गया है कि कटाई, मड़ाई एवं बुवाई की स्थिति में पांच व्यक्तियों से अधिक की भीड़ न लगने दी जाए। जानकारों का कहना है कि इससे किसानों की मुसीबत और बढ़ सकती है। हालांकि यह एडवाइजरी कोरोना वायरस से किसानों की सुरक्षा के लिए है। 

मैसेज में कहा गया है कि खेत में काम करते समय आपस में कम से कम एक मीटर की दूरी रखनी है। मुंह पर मास्क रखना है. हाथों को समय-समय पर साबुन या सैनिटाइजर से साफ करना है। किसी भी समस्या के लिए जिले के कृषि अधिकारी से संपर्क करना है। इस समय गांवों में कोरोना वायरस और लॉकडाउन के दौरान पुलिस कार्रवाई के खौफ से खेतों में काम करने वाले श्रमिकों की कमी हो गई है इसलिए फसल काटने में देरी हो रही है। ज्यादातर जगहों पर फसल अभी खेतों में खड़ी है। किसानों को आशंका है कि अगर फसल कटने में देरी के बीच बारिश हो गई या आंधी आ गई तो उन्हें भारी नुकसान होगा. गेहूं का रंग बदल जाएगा। सरसों निकालने में हुई देरी से उसके काफी दाने पहले ही खेतों में गिर गए हैं। इससे वे पहले ही घाटे में हैं।

हालांकि, सरकार ने किसानों की मजबूरी समझते हुए कृषि से जुड़ी गतिविधियों को लॉकडाउन से छूट दी है।फसल कटाई के लिए खेतों में मशीन ले जाने की इजाजत दी गई है। इसके अलावा सरकार ने मंडियों और खरीद एजेंसियों को भी लॉकडाउन में छूट दी है। गृह मंत्रालय की ओर से जारी निर्देशों के अनुसार, कृषि श्रमिकों, उर्वरकों, कीटनाशकों और बीजों की विनिर्माण एवं पैकेजिंग करने वाली इकाइयों को भी लॉकडाउन से छूट है।


02 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

उज्जवला योजना: फ्री सिलेंडर का पैसा किसके अकाउंट में कब आएगा, पढ़िए
मध्यप्रदेश का 8वां जिला कोरोना से संक्रमित, मुरैना में दुबई से लौटे दंपति पॉजिटिव
सीएम सर, क्या कोरोना ड्यूटी में सभी कर्मचारियों को समान लाभ मिलेंगे
पीएम मोदी ने कहा: धर्म गुरुओं को थाने बुलाएं
भोपाल में 4 दिन थोक बाजार बंद, राशन की परेशानी हो सकती है
कमलनाथ के राइट हैंड जीतू पटवारी कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष
भागकर घर में छुपा कोरोना मरीज, 12 घरवालों को पॉजिटिव कर गया
मंगलयान की तरह यदि AC को भी बार-बार ऑन-ऑफ करें तो क्या आधी बिजली खर्च होगी
इंदौर की महिला डॉक्टर लखनऊ से संक्रमित होकर आई थी: MGM रिपोर्ट
इंदौर में डॉक्टरों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, पथराव, संक्रमण की जांच करने गए थे
योद्धाओं की मूर्ति में घोड़ों की टांगे कभी ऊपर कभी नीचे क्यों होती है
MP BOARD 10th-12th के बाकी बचे पेपर कब होंगे, यहां पढ़िए


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here