Loading...    
   


भोपाल में तीन थानेदारों सहित 271 पुलिस वालों की घर वापसी पर प्रतिबंध | BHOPAL NEWS

भोपाल। पूरे देश में लॉक डाउन के दौरान लोगों को घरों में रहने के लिए कहा जा रहा है परंतु मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में तीन थानेदारों सहित 271 पुलिस कर्मचारियों को ड्यूटी से वापस अपने घर जाने पर रोक लगा दी गई है। इन सभी के घर के बाहर विश्राम एवं भोजन की व्यवस्था की जा रही है। यह सभी लोग कोरोनावायरस के संदिग्ध हैं। पुलिस कर्मचारी हैं इसलिए संदिग्ध होने के बावजूद होम क्वॉरेंटाइन नहीं बल्कि ड्यूटी पर हैं। 

पुलिस परिवारों को संक्रमण से बचाने के लिए

राजधानी भोपाल के टीटी नगर, ऐशबाग और जहांगीराबाद थाने का पूरा स्टाफ अब आगामी आदेश तक घर वापस नहीं जा सकता। एक-दूसरे से मिलने के कारण पुलिसकर्मियों में ये संक्रमण बढ़कर आठ हो गया है। इनमें पांच पुलिसकर्मी और तीन परिजन शामिल हैं। अफसरों का कहना है कि इस फैसले का मकसद पुलिसकर्मियों के साथ-साथ उनके परिजनों की भी सुरक्षा करना है।

पांच होटल और एक शादी हाॅल अधिग्रहित किया गया 

टीटी नगर थाने में 94, ऐशबाग थाने में 76 और जहांगीराबाद थाने में 101 पुलिसकर्मी पदस्थ हैं। एएसपी संदेश जैन ने बताया कि पुलिसकर्मियों के रुकने के लिए कुल पांच होटल और एक शादी हॉल अधिग्रहित किया गया है। ऐशबाग का स्टाफ दो होटल, टीटी नगर का स्टाफ तीन होटल और जहांगीराबाद थाने का स्टाफ लाला शादी हॉल में रुकेगा। इनके खाने-पीने का इंतजाम भी शासन की ओर से ही किया जाएगा। अब अगले आदेश तक पूरे स्टाफ को इन्हीं स्थानों पर रुकना होगा, ताकि उनके साथ-साथ उनका परिवार भी कोरोना वायरस से सुरक्षित रहे।

06 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

मध्यप्रदेश में लॉक डाउन कहां बढ़ेगा, कहां नहीं: मुख्यमंत्री की बैठक में मिले संकेत
कोर्ट में गीता पर हाथ रखकर कसम क्यों खिलाते थे, रामायण पर क्यों नहीं है



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here