DOCTOR ने एक परिवार को टक्कर मारी, पीटा फिर हड़ताल करके FIR दर्ज करवा दी - MP NEWS

सत्येंद्र उपाध्याय/शिवपुरी।
डॉक्टरों के प्रति समाज और सरकार की संवेदनशीलता का किस तरह से फायदा उठाया जाता है, इसका उदाहरण करैरा तहसील में देखने को मिला। यहां एक डॉक्टर ने ना केवल बाइक से जा रहे एक परिवार को पीछे से टक्कर मारी बल्कि उतर कर उनके साथ मारपीट की और वापस लौट कर सभी डॉक्टरों के साथ हड़ताल शुरू कर दी। दबाव में आकर पुलिस को अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करना पड़ा। 2 दिन बाद जब मामले का खुलासा हुआ तो पता चला सब कुछ उल्टा था। डॉक्टर ने उन्हें टक्कर मारकर पीटा था।

डॉक्टर अखिलेश शर्मा द्वारा बताया गया घटना का विवरण

करैरा पुलिस के अनुसार डॉक्टर अखिलेश शर्मा ने बताया था कि उनकी कार में एक अज्ञात बाइक सवार ने टक्कर मार दी और उनके साथ मारपीट की गई। अपराधियों को गिरफ्तार करने के लिए पूरे इलाके के डॉक्टर हड़ताल पर चले गए थे। पुलिस ने अज्ञात बाइक सवार के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। हड़ताल के कारण पुलिस पर आरोपियों को गिरफ्तार करने का दबाव था।

डॉक्टरों की हड़ताल के खिलाफ पाल समाज ने मोर्चा खोला

इस मामले मे नया मोड तब आया जब अखिल भारतीय पाल समाज ने डॉक्टर की कहानी हो झूठा बताते हुए दावा किया कि डॉक्टर अखिलेश शर्मा ने टक्कर मारी और फिर कार से उतर कर बाइक चालक को लात घूसों पीटा। इतना ही नहीं डॉक्टर होने के बावजूद घायल को वहीं छोड़कर भाग गए। पाल समाज के संगठित होकर सामने आने से ना केवल डॉक्टरों की हड़ताल टूट गई बल्कि डॉक्टर अखिलेश शर्मा भी बैकफुट पर चले गए। इधर पाल समाज ने आमरण अनशन की चेतावनी दे डाली। प्राथमिक विवेचना के बाद करैरा पुलिस ने बाइक चालक अंकित पाल की रिर्पोट पर डॉक्टर अखिलेश यादव के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 

बाइक सवार द्वारा बताया गया घटना का विवरण

फरियादी अंकित पाल पुत्र चंद्रभान पाल उम्र 20 साल निवासीनया थाने के पीछे दिनारा ने थाना आकर रिर्पोट दर्ज कराई कि 1 जून को में अपनी मोटर साईकिल से अपने पिता एंव बहन के साथ दिनारा से बगीचा मंदिर करैरा दर्शन करने जा रहा था। मोटरसाइकिल मेरे पिता चंद्रभान सिंह चला रहे थे।

सुबह 9 बजे जैसे ही हम पुलिस लाइन के चौराहे पर पहुंचे तो करैरा नगर की ओर से एक आल्टो कार एमपी 33 सी 9461 का चालक ने लापरवाही से चलाते हुए हमारी मोटरसाइकिल में पीछे से टक्कर मार दी। जिससे हम तीनों नीचे गिर गए। अंकित ने बताया कि इस एक्सीडेंट में मेरे पिता, मेरी बहन और मैं स्वयं तीनों घायल हो गए थे।

हम समझ पाते इससे पहले कार से डॉक्टर अखिलेश शर्मा निकले और हमारे साथ लात घूसों से मारपीट शुरू कर दी। मौके पर अभिनय तिवारी और भगवान सिंह पाल ने बीच बचाव किया। सभी घायलों को इलाज के लिए शिवपुरी अस्पताल जाना पड़ा, जहां उन्हें भर्ती किया गया। करैरा थाना पुलिस ने अंकित पाल की रिर्पोट पर करैरा अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर अखिलेश शर्मा के खिलाफ भादिव की धारा 279,337,323 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

05 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here