Loading...    
   


15 अगस्त आते ही कमलनाथ को ट्रोल किया जाने लगा, पढ़िए क्यों / MP NEWS

भोपाल
। पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ का एक ट्वीट भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने 5 महीने तक संभाल कर रखा। 20 मार्च 2020 को किए गए इस ट्वीट को अब वायरल किया जा रहा है और इसी के साथ टीम कमलनाथ का सोशल मीडिया पर मजाक उड़ाया जा रहा है। 

दरअसल, मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिरने के साथ ही 20 मार्च को कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। कमलनाथ के इस्तीफा देने के कुछ ही घंटों बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट हुआ था, जिसमे लिखा था 'इस ट्वीट को संभाल कर रखना- 15 अगस्त 2020 को कमलनाथ जी मप्र के मुख्यमंत्री के तौर पर ध्वजारोहण करेंगे और परेड की सलामी लेंगे। ये बेहद अल्प विश्राम है' (क्योंकि कमलनाथ मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हैं और ट्वीट MPCC की तरफ से किया गया अतः इसे कमलनाथ द्वारा किया गया ट्वीट माना गया)

15 अगस्त 2020 आ गया, कमलनाथ नहीं आए 

अब स्वतंत्रता दिवस यानी 15 अगस्त 2020 आ गया है। यानी वो तारीख जिस पर कमलनाथ के बतौर मुख्यमंत्री तिरंगा फहराने का ट्वीट किया गया था। लिहाजा सोशल मीडिया भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने 20 मार्च के इस ट्वीट पर कमलनाथ कांग्रेस को ट्रोल करना शुरू कर दिया है। 

मध्य प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता लोकेंद्र पाराशर ने कांग्रेस के ट्वीट के स्क्रीनशॉट ट्वीट करते हुए लिखा है कि 'हमने भी इसे संभाल कर रखा था। केवल 3 दिन बचे हैं, अब तो मान लो अल्पविराम नहीं पूर्ण विराम था। अच्छा होगा सरकार जाने के बाद आपकी चादर में जो बड़े-बड़े छेद हो रहे हैं, उनके लिए पैबंद ढूंढने का काम कर लो। अज्ञान और अहंकार की भी हद होती है।

क्यों किया था ट्वीट?
दरअसल, कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत कांग्रेस के 22 विधायकों ने मार्च में कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। इसके चलते 20 मार्च को कमलनाथ सरकार गिर गई थी, जिसके बाद ही ये ट्वीट करते हुए कमलनाथ की टीम ने दावा किया था कि जल्द ही मध्य प्रदेश में एक बार फिर उनकी सरकार बनेगी। बयानों में कुछ नेताओं ने दावा किया था कि जिस तरह से कांग्रेस पार्टी के विधायक टूट कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए हैं उसी तरह से भारतीय जनता पार्टी के विधायक इस्तीफा देकर कांग्रेस पार्टी में शामिल हो जाएंगे। दावे किए गए थे कि मैनेजमेंट में माहिर कमलनाथ 15 अगस्त 2020 से पहले शिवराज सिंह सरकार को अल्पमत में लाकर एक बार फिर मुख्यमंत्री बन जाएंगे।


13 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

हमीदिया के डॉक्टरों पर आरोप लगाने वाले नरेंद्र की दूसरी बेटी भी मर गई 



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here