Loading...    
   


MP NEWS- खाली बिल्डिंग को अस्पताल बताया, वाइस प्रिंसिपल सस्पेंड

इन्दौर
। आदित्यराज अस्पताल एवं रिसर्च सेन्टर, कुक्षी मामले में कमिश्नर डॉ पवन कुमार शर्मा ने श्री कृष्णा पिल्लई फैक्लटी (उप प्राचार्य) शासकीय नर्सिंग महाविद्यालय, इन्दौर को सस्पेंड कर दिया है। आरोप है कि श्री पिल्लई ने आदित्य राज अस्पताल के निरीक्षण के मामले में गलत रिपोर्ट सबमिट की और उन्हें फायदा पहुंचाया।

कृष्णा पिल्लई की रिपोर्ट पर आदित्यराज कॉलेज ऑफ नर्सिग धार का रजिस्ट्रेशन हुआ था

कमिश्नर ऑफिस से प्रेस को भेजी गई जानकारी में बताया गया है कि श्री कृष्णा पिल्लई फैक्लटी (उप प्राचार्य) शासकीय नर्सिंग महाविद्यालय इन्दौर द्वारा किये गये निरीक्षण के आधार पर मध्यप्रदेश नर्सेस रजिस्ट्रेशन काउंसिल, भोपाल के आदेश के अनुसार आदित्यराज अस्पताल एवं रिचर्स सेन्टर से संलग्न आदित्यराज कॉलेज ऑफ नर्सिग धार का रजिस्ट्रेशन किया गया था। 

कलेक्टर ने जांच कराई तो अस्पताल ही नहीं मिला

इस मामले में धार कलेक्टर को जब शिकायत प्राप्त हुई तो 12 जून को उन्होंने एक टीम को इन्वेस्टिगेशन के लिए आदित्यराज अस्पताल एवं रिसर्च सेन्टर, कुक्षी भेजा। ग्राउंड पर इन्वेस्टिगेशन के दौरान आदित्यराज कॉलेज ऑफ नर्सिग अस्पताल संचालित होना नहीं पाया गया। एक बिल्डिंग मिली जिसमें 37 पलंग पड़े हुए थे परंतु उनका कोई उपयोग नहीं हो रहा था। इस बिल्डिंग में स्वास्थ्य संबंधी कोई भी उपकरण नहीं था।

श्री कृष्णा पिल्लई पर फर्जी निरीक्षण का आरोप, सस्पेंड

श्री कृष्णा पिल्लई उप प्राचार्य शासकीय नर्सिंग महाविद्यालय, इन्दौर द्वारा किये गये फर्जी निरीक्षण एवं अपने पदीय कर्त्तव्य के प्रति लापरवाही एवं उदासीनता बरती जाने तथा उनका कृत्य सिविल सेवा आचरण नियम के विपरित पाये जाने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। उनका मुख्यालय अधिष्ठाता. एम.जी.एम. मेडिकल कालेज इन्दौर निर्धारित किया गया है।

19 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here