Loading...    
   


IAS LOKESH JANGID ने खुलकर कहा: भ्रष्टाचार हुआ है, बड़वानी कलेक्टर ने लॉबिंग की थी, मैं अपनी बात पर कायम हूं

भोपाल
। भारतीय प्रशासनिक सेवा 2014 बैच के युवा अधिकारी लोकेश जांगिड़ ने नौकरी बचाने के लिए समझौता करने के बजाए विषम परिस्थितियों का सामना करने का फैसला लिया है। अब तक एसोसिएशन के ग्रुप में हुई चैट वायरल हो रही थी परंतु अब लोकेश जांगिड़ ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देना शुरू कर दिया है। उन्होंने खुलकर कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई करने के कारण बड़वानी कलेक्टर ने उनके ट्रांसफर के लिए लविंग की थी। 

बड़वानी में ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर खरीदी में भ्रष्टाचार हुआ था

भोपाल के पत्रकार श्री आशीष रघुवंशी से बात करते हुए उन्होंने कहा कि 'जो भी हुआ, वह बेहद निराशाजनक है। इतना ही कहना चाहूंगा। लोकेश ने बताया कि मैंने खुले तौर पर कहा है कि ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर खरीदी में गड़बड़ हुई थी। भ्रष्टाचार हुआ था। सबके सामने लाया तो मुझ पर ही कार्रवाई हो गई। उन्होंने कहा कि बड़वानी कलेक्टर ने फ़ोन पर लॉबिंग की। उन्होंने भोपाल में किसी से बात की। इसका कारण मैं पहले बता चुका हूं कि क्यों मेरे ऊपर कार्यवाही की गई। 

यह है टंटे की जड़

लोकेश कुमार जांगिड़ केवल कलेक्टर पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते तो कोई बात नहीं थी परंतु उन्होंने जातिवाद की राजनीति को हवा दे दी। मात्र 42 दिन में बड़वानी से तबादले के बाद लोकेश जांगिड़ ने बड़वानी कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा पर गंभीर आरोप लगाते हुए IAS एसोसिएशन के सोशल मीडिया ग्रुप में लिखा कि कलेक्टर पैसा नहीं खा पा रहे हैं इसलिए वर्मा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कान भर दिए। वे एक ही किरार समुदाय से हैं और कलेक्टर की पत्नी "किरार महासभा" की सचिव हैं, मुख्यमंत्री की पत्नी अध्यक्ष हैं।

ब्यूरोक्रेसी इस हालत में होगी कभी उम्मीद नहीं की थी, मैं अपनी बात पर कायम हूं

युवा आईएएस लोकेश जांगिड़ ने कहा कि स्थितियां वाकई में अजीब हो गई हैं। आप खुद सोचिए 4 साल में 8 ट्रांसफर। हर जगह गड़बड़ी को सामने लाने का प्रयास किया जाता है और कुछ ही दिनों में तबादले के आदेश आ जाता है। ब्यूरोक्रेसी इस हालत में होगी कभी उम्मीद नहीं की थी। उन्होंने बताया कि नोटिस आया है। उसका जवाब दे दिया जाएगा। मैंने न कुछ गलत किया है और न कुछ लिखा है। मैं अपनी बात पर कायम हूं।

18 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here