अनुकंपा कर्मचारियों की नौकरी खतरे में, CPCT की जगह डिप्लोमा मान्य करने की मांग - EMPLOYEE NEWS

भोपाल।
मध्यप्रदेश में अनुकंपा नियुक्ति प्राप्त सहायक ग्रेड-3 कर्मचारियों की नौकरी खतरे में आ गई है। COVID के कारण 2020 में CPCT EXAM आयोजित नहीं हुआ और शासन के आदेश के अनुसार CPCT प्रमाण पत्र जमा करने की लास्ट डेट आ गई है। मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ ने अपील की है कि सीपीसीटी की जगह कंप्यूटर डिप्लोमा को मान्यता दी जाए।

मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ की मांग अनुसार जो अनुकंपा नियुक्ति के सामान्य प्रसाशन विभाग के निर्देश दिनांक 29/09/2014 की कंडिका 6.5 में उल्लेखित है कि, अनुकंपा नियुक्त कर्मचारियों को CPCT परीक्षा एवम कम्प्यूटर डिप्लोमा पास करने के लिए चार वर्ष का समय दिया जाकर उसके बाद भी परीक्षा उत्तीर्ण न करने पर सेवा समाप्त करने का प्रावधान किया गया है।

जिससे पूरे प्रदेश के अनुकंपा नियुक्ति प्राप्त कर्मचारी परेशान है। एवम इस समय जहा शिवराज सरकार कोरोना में अनुकंपा नियुक्ति प्रदान कर रही है वह पूर्व में नियुक्त कर्मचारी इस आदेश के बंधन से परेशान है कि कहीं उनकी नौकरी न छिन जाए। मैप आईटी द्वारा आयोजित होने वाली CPCT परीक्षा भी पिछले साल मार्च 2020 से नही हुई है।

जिससे कर्मचारियों को दिए गए चार साल में से भी 1 साल 4 महीने का नुकसान हुआ है एवं इस कोरोना महामारी को देखते हुए यह भी नही कहा जा सकता है यह परीक्षा कब आयोजित होगी। क्योंकि यह परीक्षा ऑनलाइन होती है एवं लाखो लोग पूरे प्रदेश में परीक्षा देते है।

कर्मचारी संगठन की पूरे प्रदेश से यही मांग है कि अनुकंपा नियुक्त सहायक ग्रेड-3 कर्मचारियों को सीपीसीटी परीक्षा के स्थान पर कम्प्यूटर डिप्लोमा अनिवार्य किया जाए।
धन्यवाद। शरद शुक्ला, जिला अध्यक्ष, मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ रतलाम

06 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here