Loading...    
   


लोगों को शराब टॉनिक की तरह लगती है इसलिए दुकानें खोलनी पड़ीं: केंद्रीय मंत्री - BHOPAL NEWS

भोपाल।
मध्यप्रदेश में मंदिर से पहले मदिरा की दुकानें खोल दी गई थी। सरकार ने ऐसा क्यों किया, सवाल के जवाब में केंद्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि लोगों को शराब टॉनिक की तरह लगती है, पब्लिक की डिमांड पर सरकार ने शराब की दुकानें खोलने का फैसला किया।

मध्यप्रदेश में अनलॉक होते ही शराब की दुकानें खोलने और उसकी टाइमिंग ज्यादा होने पर सवाल खड़े हो रहे हैं। इस संबंध में मंडला में पत्रकारों ने केंद्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते से भी सवाल किया। इस पर उन्होंने गजब का लॉजिक बताया है। फग्गन सिंह कहा, शराब लोगों को टॉनिक की तरह लगती है। इसलिए लोग अन्य जरूरी चीजों से ज्यादा शराब की दुकानें खोलने की मांग कर रहे थे। यही वजह है कि सरकार ने शराब की दुकानें खोलने का फैसला किया है।

आकाश विजयवर्गीय ने कहा था कि इलाज के लिए पैसा चाहिए इसलिए ठेके खोले

इससे पहले इंदौर में भारतीय जनता पार्टी के विधायक आकाश विजयवर्गीय ने कहा था कि कर्फ्यू के कारण सरकारी खजाने में कमी हो गई है। कोरोनावायरस के मरीजों का इलाज करने के लिए, प्रदेश की व्यवस्थाओं को संचालित करने के लिए पैसों की जरूरत होती है। इसलिए सरकार ने ठेके खोल दिए हैं।

07 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here