Loading...    
   


MP CORONA: 25% लोग पॉजिटिव निकल रहे हैं, हालात नियंत्रण के बाहर UPDATE NEWS

भोपाल
। जिम्मेदार सरकार हो या जनता लेकिन हालात नियंत्रण से बाहर हो गए। इस परिस्थिति को भुलाया नहीं जा सकता परंतु सबसे पहली जरूरत है कि किसी भी तरह से कोरोनावायरस के संकट से बाहर निकला जाए। आज पहली बार मध्य प्रदेश की एवरेज पॉजिटिविटी रेट 25% से ज्यादा हो गई है। यानी हालात नियंत्रण से बाहर हो गए। यदि तत्काल इंजेक्शन, ऑक्सीजन की उपलब्धता और संक्रमित इलाकों में टोटल लॉकडाउन नहीं किया गया तो खेल के मैदानों में चिताएं जलती हुई दिखाई देंगी।

मध्य प्रदेश सबसे खतरनाक स्थिति वाले जिलों की संख्या 21

इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन, सागर, रतलाम, बैतूल, रीवा, विदिशा, होशंगाबाद, सतना, बड़वानी, शिवपुरी, बालाघाट, शहडोल, कटनी, नीमच, रायसेन, शाजापुर और टीकमगढ़ ऐसे जिले हैं जहां कोरोनावायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 1000 से अधिक चल रही है। इंदौर में 10000, भोपाल 8000 और ग्वालियर 5000 से अधिक के साथ सबसे खतरनाक स्थिति में है। 

मध्य प्रदेश खतरनाक स्थिति वाले जिलों की संख्या 22

आगर मालवा, अशोकनगर, मंडला, पन्ना, उमरिया, दतिया, गुना, खरगोन, धार, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, झाबुआ, नीमच, सीहोर, मंदसौर, मुरैना, दमोह, छतरपुर, सिवनी, अनूपपुर, सिंगरौली और सीधी ऐसे जिले हैं जहां एक्टिव केस की संख्या 1000 से कम लेकिन 500 से ज्यादा है। इन इलाकों में संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। नागरिकों को सावधान रहने की जरूरत है। 

MADHYA PRADESH COVID19 UPDATE NEWS 19 APRIL 2021 

सीएम शिवराज सिंह ने बताया कि #COVID19 के विरुद्ध प्रभावी लड़ाई जारी है। भारत सरकार ने टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के अंतर्गत 1 मई से 18 साल से अधिक उम्र के नागरिकों का टीकाकरण करने का निर्णय लिया है। यह स्वागतयोग्य है। मैं 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी नागरिकों से अपील करता हूँ कि आप सभी अपना टीकाकरण करवाएँ।
भोपाल में कांग्रेस पार्टी के विधायक एवं पूर्व मंत्री पीसी शर्मा अपने घर के बाहर 21 घंटे के उपवास पर बैठ गए हैं। उनका आरोप है कि भोपाल के जेपी अस्पताल में कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों को इंजेक्शन और ऑक्सीजन उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है।
इंदौर में कैलाश विजयवर्गीय द्वारा गरीबों को फ्री में इंजेक्शन उपलब्ध कराया जाएगा।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ऑक्सीजन के टैंकर रोकने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें। संकटकाल में ऑक्सीजन के टैंकर को रोकना अनुचित भी है और अपराध भी।
कोरोनावायरस के संक्रमण के मामले में मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने सरकार को फटकार लगाई। 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 30 अप्रैल 2021 तक जनता कर्फ्यू की घोषणा कर दी। 
नरसिंहपुर में 30 साल के कोरोना मरीज़ का शव 2 घंटे वार्ड में ही पड़ा रहा, बुजुर्ग मां-बाप गांव में थे, बड़ा भाई भी संक्रमित है। डॉक्टरों ने बड़े भाई शिकार के पहले इसका अंतिम संस्कार करो फिर तुम्हारा इलाज करेंगे।

MADHYA PRADESH CORONA BULLETIN 19 APRIL 2021 DISTRICT WISE STATUS LIST 




19 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here