Loading...    
   


मध्यप्रदेश में कमलनाथ कांग्रेस की क्या स्थिति है, सत्ता में आने के लिए कितनी सीटें चाहिए - MP NEWS

भोपाल
। मध्य विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 55 दमोह सीट से कांग्रेस पार्टी के विधायक राहुल लोधी विधायक पद से इस्तीफा देकर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं। राजधानी भोपाल में आयोजित पत्रकार वार्ता में राहुल लोधी ने बताया कि उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा क्यों दिया। 

15 महीने में दमोह का एक भी काम नहीं हुआ 

राहुल लोधी ने भी कमलनाथ पर कई आरोप लगाए जो इस्तीफा देने वाले विधायकों ने पहले भी लगाए थे। राहुल लोधी ने कहा कि 2018 के विधानसभा चुनाव में कमलनाथ ने आश्वासन दिया था कि दमोह में मेडिकल कॉलेज खोला जाएगा परंतु 15 महीने के शासनकाल में कमलनाथ दमोह के लिए किसी भी काम पर हस्ताक्षर नहीं किए। भारतीय जनता पार्टी ने विश्वास दिलाया है कि चुनाव में मैंने जनता से जो भी वादे किए थे, शिवराज सिंह चौहान की सरकार उन्हें पूरा करेगी। राहुल लोधी ने स्पष्ट किया कि इस परिवर्तन के पीछे किसी भी प्रकार की सौदेबाजी नहीं है। 

कमलनाथ के पास 87 विधायक बचे, 25 इस्तीफा दे गए 

कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल लोधी के इस्तीफे को भी सौदेबाजी और भाजपा की डर्टी पॉलिटिक्स बता रहे हैं। जबकि इससे पहले शनिवार को खबर आई थी कि कमलनाथ की टीम भारतीय जनता पार्टी के ऐसे विधायकों कि रेकी कर रही है, जिनके टूटने की संभावना है। भाजपा में कुछ विधायक ऐसे हैं जिन्हें खुद भी पता है कि अगली बार उन्हें टिकट नहीं मिलने वाला। शनिवार को खबर आई थी कि कमलनाथ की टीम इस तरह के विधायकों के संपर्क में हैं। आज दिनांक 25 अक्टूबर 2020 की स्थिति में मध्यप्रदेश विधानसभा में:- 
  • भारतीय जनता पार्टी के विधायकों की संख्या 107 
  • कांग्रेस पार्टी के विधायकों की संख्या 87 
  • बहुजन समाज पार्टी के विधायकों की संख्या 2 
  • समाजवादी पार्टी के विधायकों की संख्या 1 
  • निर्दलीय विधायकों की संख्या 4 
  • खाली विधानसभा सीटों की संख्या 29 
  • मध्य प्रदेश में कुल विधानसभा सीटों की संख्या 230 
  • कितनी विधानसभा सीटों पर उपचुनाव 28 
  • तीन नवंबर को मध्य प्रदेश में विधायकों की संख्या 229 
  • सरकार बनाने के लिए जरूरी विधायकों की संख्या 115 
  • पूर्ण बहुमत के लिए कांग्रेस को कितनी सीटों पर जीतना जरूरी 28 
  • जुगाड़ की सरकार बनाने के लिए कितनी सीटों पर जीतना जरूरी 21
  • संसदीय कार्य मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने 2 दिन पहले इसी संख्या (115) का जिक्र किया था। 

इस गणित को दूसरे तरीके से समझते हैं 

  • मध्यप्रदेश में ऐसे विधायक जो सत्ता के साथ रहेंगे 07 
  • सत्ता तक पहुंचने के लिए जरूरी विधायकों की संख्या 108 
  • कांग्रेस पार्टी के पास विधायकों की संख्या 87 
  • उपचुनाव में कितनी सीटों पर जीत जरूरी 21 
  • भारतीय जनता पार्टी के पास विधायकों की संख्या 107 
  • कितनी सीटों पर जीत जरूरी 01 

25 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here