Loading...    
   


BIKE में ABS लगवाने से क्या सचमुच एक्सीडेंट नहीं होता, पढ़िए पूरी जानकारी

वाहनों में अच्छे इंजन के साथ ही स्पीड भी बढ़ गई है और इसी के साथ एक्सीडेंट की घटनाएं भी बढ़ गई है। नए वाहनों में सिक्योरिटी फीचर का खास ध्यान रखा जाता है। ऐसा ही एक सिक्योरिटी फीचर है ABS जिसकी बाइक में डिमांड सबसे ज्यादा है। आइए जानते हैं यह फीचर क्या है और कैसे काम करता है। 

ABS की फुल फॉर्म, BIKE में ABS सिस्टम कैसे काम करता है

बाइक के मामले में ABS की फुल फॉर्म होती है Anti-lock Braking System. इस सिस्टम के पहले तक यदि आप बाइक को तेज गति से चला रहे हैं और अचानक आपको फुल ब्रेक अप्लाई करना पड़ जाए तो आपकी बाइक का बैलेंस बिगड़ जाता था। बाइक रोड पर स्लिप हो जाती थी। टू व्हीलर के सबसे ज्यादा एक्सीडेंट अचानक फुल ब्रेक अप्लाई करने पर ही सामने आए हैं। एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम लोगों को इस खतरे से बचाता है। ABS पलक झपकते ही काम करना शुरू कर देता है और अचानक फुल ब्रेक अप्लाई करने की स्थिति में आपकी बाइक के बैलेंस को बिगड़ने से रोकता है। 

BIKE में ABS सिक्योरिटी फीचर की खास बात

यदि किसी बाइक में ए बी एस सिक्योरिटी फीचर लगा हुआ है तो बाइक चलाने वाला इस बात के लिए निश्चिंत रहेगा की उसकी बाइक ब्रेक लगाने के कारण एक्सीडेंट का सकती है। ABS सेंसर सिस्टम के कारण दोनों पहियों की स्पीड की निगरानी करता है। जैसे ही पहियों की स्पीड में अचानक कोई परिवर्तन आता है, ABS काम करना शुरू कर देता है। वह इलेक्ट्रॉनिक कण्ट्रोल यूनिट (ECU) सिग्नल्स के अनुसार ब्रेक्स को अप्लाई करने का संकेत देता है। 

18 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here