Loading...    
   


GWALIOR में जज की पत्नी के शव से हीरे की अंगूठी, स्वर्ण आभूषण गायब - MP NEWS

ग्वालियर।
अस्पतालों में कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों के साथ अमानवीयता एवं अपराध की खबरें लगातार आ रही हैं। बिरला अस्पताल में भर्ती जज की पत्नी के शव से हीरे की अंगूठी और स्वर्ण आभूषण गायब मिले। पुलिस का कहना है कि हॉस्पिटल के मैनेजमेंट ने जज के बेटे को 15 दिन तक पुलिस के पास नहीं आने दिया। घटना 29 अप्रैल 2021 को बिड़ला अस्पताल की है। रिपोर्ट 16 मई 2021 को दर्ज की गई।

बिरला अस्पताल में भर्ती करते समय हीरे की अंगूठी और स्वर्ण आभूषण पहने थीं

न्यायाधीश अरुण सिंह तोमर इन दिनों उपभोक्ता फोरम में पदस्थ हैं और सचिन तेंदुलकर मार्ग स्थित टाउनशिप में रहते हैं। 19 अप्रैल को उनकी पत्नी सरला तोमर की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। हालत बिगड़ने पर पत्नी को बिड़ला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। हॉस्पिटल में भर्ती करते समय सरला तोमर दोनों हाथ में सोने की अंगूठी, एक अंगूठी में डायमंड लगा था। इसके अलावा कान में टॉप्स, पैरों में पायल, बिछिया व नाक में लोंग पहने थीं।

डॉक्टरों ने केवल एक लोंग और पायल वापस की

29 अप्रैल की रात 11 बजे सरला देवी की मौत हो गई। परिजन को सूचना दी। इस पर जज का बेटा राघवेन्द्र सिंह हॉस्पिटल पहुंचे। यहां बकाया बिल 3.11 लाख रुपए भी जमा किए। उस समय तक महिला के शव को कोविड बैग में पैक कर मुक्तिधाम के लिए भेज दिया गया था। डॉक्टर ने एक लोंग व पायल परिजन को सौंप दी। शेष सामान उनके कपड़े के बैग में रखा होने की बात कही।

बैग में से सभी स्वर्ण आभूषण, हीरे की अंगूठी, नगदी और ऑक्सीमीटर गायब थे

इसके बाद, कोविड गाइडलाइन से महिला का अंतिम संस्कार कर दिया गया। दो से तीन दिन बाद जब परिजन ने उनका बैग खोला, तो उसमें गहने नहीं थे। साथ ही, पेशेंट का ऑक्सीमीटर व एक हजार रुपए नकदी भी गायब थे। पुलिस ने मामले में रविवार को जज के बेटे राघवेन्द्र सिंह की शिकायत पर बिड़ला हॉस्पिटल के अज्ञात वार्ड बॉय के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

मामले में TI गोला का मंदिर थाना विनय शर्मा का कहना है, FIR दर्ज कर ली है। अब CCTV कैमरों की फुटेज देखकर चोरी करने वाले की पहचान की जाएगी। मामले में इतनी देरी से FIR का कारण यह है, जब गहने बैग में नहीं मिले, तो जज के बेटे ने बिड़ला हॉस्पिटल प्रबंधन को मामले की सूचना दी। उन्होंने विश्वास दिलाया कि वह हॉस्पिटल में लगे CCTV कैमरों की फुटेज देखकर आरोपी को बेनकाब करेंगे। ऐसा हुआ नहीं। वह मामले को टालते गए। इसके बाद राघवेन्द्र ने थाने में शिकायत दर्ज कराई।

मुरार में भी हुई थी ऐसी ही घटना

हॉस्पिटल के कोविड वार्ड में यह इस तरह की पहली घटना नहीं है। इससे पहले लगातार इस तरह की हरकतें होती रही हैं। हाल में मुरार जिला अस्पताल में गुढ़ा निवासी पूनम वीरे के गहने चोरी हो गए थे। घटना के एक दिन बाद पूनम की मौत भी हो गई थी। मुरार थाना में मामला भी दर्ज है।

16 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here