Loading...    
   


रेमडेसिविर कांड के आरोपियों का शिवराज सिंह और विश्वास सारंग से कनेक्शन चर्चा में - BHOPAL NEWS

भोपाल
। रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जद में आए आरोपी आकाश दुबे और अंकित सलूजा का शिवराज सिंह चौहान और विश्वास सारंग से कनेक्शन चर्चा में आ गया है। कांग्रेस पार्टी का आरोप है कि दोनों आरोपियों को भाजपा नेताओं का आशीर्वाद और संरक्षण प्राप्त था। 

रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भोपाल में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कलाबाजारी करते पकड़ाए एक आरोपी का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ फोटो शेयर किया है। इसके साथ ही दिग्विजय सिंह ने लिखा है कि 'जबलपुर “नर पिशाच” के बाद एक और “नर पिशाच” आकाश दुबे को पहचानते है ना? देखते हैं आप क्या कार्रवाई करते हैं। इसके साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री ने लिखा कि क्या अंकित सलूजा और दिलप्रीत सलूजा पुत्र गुरबचन सिंह भी भाजपा से ही जुड़े है‌? भोपाल में दोनों “नर पिशाच” इंजेक्शन की कालाबाजारी में पकड़े गए? 

मामला क्या है
भोपाल के जेके अस्पताल में कोविड केयर सेंटर के कर्मचारी और मैनेजर रेमडेसिवीर इंजेक्शन चोरी कर बाहर बेच रहे थे। पुलिस ने इस मामले में जेके अस्पताल के आईटी विभाग के मैनेजर आकाश दुबे सहित चार आरोपियों के खिलाफ रासुका के तहत केस दर्ज किया है। इस मामले में पुलिस ने एमपी नगर में इंदौर सीट कवर नाम से दुकान चलाने वाले दिलप्रीत उर्फ नानू सलूजा, उसके भाई अंकित सलूजा एवं ग्रीन मेडोज कॉलोनी में रहने वाले मेडिकल स्टोर संचालक आकर्ष सक्सेना को 5 इंजेक्शन के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। इनको मैनेजर आकाश ने अस्पताल से रेमडेसिवीर इंजेक्शन चोरी कर 16 हजार रुपए में बेचे थे।

16 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here