Loading...    
   


फूल सिंह बरैया का सवर्ण महिलाओं के प्रति आपत्तिजनक बयान वाला वीडियो वायरल, कांग्रेस ने किनारा किया - MP NEWS

भोपाल।
मध्यप्रदेश के दतिया जिले की भांडेर विधानसभा सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी श्री फूल सिंह बरैया का एक पुराना वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में कई आपत्तिजनक बयान है। इनमें से एक बयान सवर्ण जाति की महिलाओं के प्रति काफी आपत्तिजनक है। कांग्रेस पार्टी ने किनारा करते हुए बयान जारी किया है कि वायरल वीडियो पुराना है, जब वह बहुजन समाज पार्टी के नेता थे। फूल सिंह बरैया ने कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में ऐसा कोई बयान नहीं दिया।

कांग्रेस ने कहा वह तो पुराना वीडियो है, हमारा कोई लेना-देना नहीं

कमलनाथ के मीडिया कोऑर्डिनेटर नरेंद्र सलूजा ने वायरल वीडियो को एडिटेड और फेक बताया है। फिर बड़ी ही चतुराई के साथ यह भी बताया कि वीडियो को देखकर साफ समझा जा सकता है कि जिस समय फूल सिंह बरैया बहुजन समाजवादी पार्टी के नेता थे, उस समय का वीडियो है। सलूजा ने फूल सिंह बरैया के विचारों से किनारा करते हुए कहा कि कांग्रेस का इन वीडियो से कोई लेना-देना नहीं है। कांग्रेस इस तरह की सोच व विचारधारा में विश्वास भी नहीं रखती है। और अंत में बात को संभालते हुए लिखा कि कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में फूल सिंह बरैया ने इस तरह का कोई भी बयान नहीं दिया है। 

विवादित वीडियो 14 अप्रैल 2016 का है

जानकारी के अनुसार सोशल मीडिया पर वायरल फूलसिंह बरैया का जो वीडियो है वह भितरवार विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली चीनौर तहसील के ग्राम भागीरथपुरा का है जहां 14 अप्रैल 2016 को क्षेत्रीय विधायक लाखन सिंह यादव की मौजूदगी में संविधान रचेता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा का अनावरण किया गया था।

सवर्ण महिलाओं के लिए क्या कहा फूल सिंह बरैया ने 

फूल सिंह बरैया ने कहा कि सवर्ण वर्ग के लोगों का कुत्ता अगर अनुसूचित जाति के लोग छू लेता हैं तो वे उस कुत्ते को अनुसूचित जाति के घर बांध आते हैं। इसलिए अनुसूचित जाति के लोगों को भी सवर्णों के घर जाकर उनकी महिलाओं को लड्डू खिलाने चाहिए, जिससे वह भी अस्पृश्य हो जाएं और फिर सवर्ण वर्ग के लोग उन्हें अनुसूचित जाति के घर के लोगों के घर छोड़ आएं। इस तरह अनुसूचित जाति के लोगों के दो-दो पत्नियां हो जाएंगी।

दिग्विजय सिंह ने महेंद्र बौद्ध की कीमत पर फूल सिंह बरैया को टिकट दिया है 

यहां बताना जरूरी है कि फूल सिंह बरैया का रिश्ता बहुजन समाज पार्टी से टूट गया था। उनकी सक्रियता प्रभाव और वोट बैंक भी प्रभावित हुआ था। जाति की राजनीति के समीकरण साधने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ना केवल फूल सिंह बरैया को कांग्रेस में शामिल किया बल्कि अपने वर्षों पुराने साथी महेंद्र बौद्ध की कीमत पर फूल सिंह बरैया को टिकट दिया। भांडेर सीट से कांग्रेस नेता महेंद्र बौद्ध बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं जबकि बसपा से रिश्ता टूटने के बाद प्रभावहीन हुए फूल सिंह बरैया को कांग्रेस ने टिकट दिया है।

02 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here