Loading...    
   


GWALIOR के प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना मरीज का खर्चा अधिकतम ₹5000 प्रतिदिन - MP NEWS

ग्वालियर
। जहां एक और इंदौर में प्राइवेट अस्पताल कोरोनावायरस से पीड़ित मरीजों को खुलेआम लूट रहे हैं वहीं दूसरी ओर ग्वालियर में कलेक्टर एवं प्राइवेट अस्पताल संचालकों ने मिलकर सभी सेवाओं की अधिकतम शुल्क सुनिश्चित कर लिए हैं। क्या के प्राइवेट अस्पतालों में एक मरीज का प्रतिदिन का अधिकतम कर्जा ₹5000 से ज्यादा नहीं होगा। 

शहर में ऐसे निजी अस्पताल जो कोविड मरीजों के इलाज के लिए अधिकृत किए गए हैं, ऐसे निजी अस्पतालों में भर्ती होने वाले कोविड मरीज के इलाज के दौरान दवा से लेकर अन्य उपयोग किए जाने वाले सामान की दरें तय कर दी गई है। अब कोई भी निजी अस्पताल प्रशासन स्तर पर तय की गई दर से ही मरीज से भुगतान लेना होगा। 

ग्वालियर में कोरोना मरीजों के लिए प्राइवेट अस्पतालों के रेट

PPE KIT ₹1500 :-इसमें विजिटर डॉक्टर, ड्यूटी डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टॉफ, हाउस कीपिंग व लैब टैक्निशियन आदि की किट भी शामिल रहेगी। 
ऑक्सीजन ₹1500 :- जरूरत पड़ने पर लगाई जाएगी। 
हाई फ्लो ऑक्सीजन ₹2500 :- 24 घंटे के लिए।
भोजन एवं अन्य ₹700 :- मरीज के भोजन, ब्रैकफास्ट, डिस्पोजल बेडशीट व डेंटल किट व कमरों की सफाई व्यवस्था का शुल्क शामिल किया गया है। 
दवाई :- एमआरपी से अधिक नहीं लिया जा सकता। मरीज के परिजन चाहे तो बाजार से ला सकते हैं।

08 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

वेटिकन सिटी में बच्चे पैदा क्यों नहीं होते?
यदि ब्रांच मैनेजर BANK ACCOUNT CLOSE करने से मना कर दे तो क्या करें
पत्नी को परीक्षा दिलाने स्कूटी से ग्वालियर आये थे फ्लाइट से जाएंगे झारखंड वाले धनंजय कुमार
यदि रेल की पटरी में करंट का तार लगा दें तो क्या होगा
कूलर की मोटर जाम क्यों हो जाती है, जबकि पंखे की सालों-साल चलती है
मंत्री नरेंद्र तोमर को महिलाओं ने घेरा, बोलीं: चलो हमारे साथ, दलदल बन गई सड़क पर चलकर दिखाओ
MADHYA PRADESH के स्कूलों में 5+3+3+4 पाठ्यक्रम को लागू किया जायेगा
AFTER CORONA: ग्वालियर में 40% लोग नई बीमारी का शिकार
कूलर की मोटर जाम क्यों हो जाती है, जबकि पंखे की सालों-साल चलती है
संविदा कर्मचारी का ट्रांसफर नहीं किया जा सकता: हाईकोर्ट ने आदेश पर स्टे लगाया
मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूलों में व्हाट्सएप पर मूल्यांकन होगा


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here