Loading...    
   


मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूलों में व्हाट्सएप पर मूल्यांकन होगा - MP NEWS

भोपाल।
मध्य प्रदेश के स्कूल शिक्षा से जुड़े अधिकारियों ने प्राइमरी और मिडिल क्लास के बच्चों के भविष्य को फुटबॉल बना लिया है। लॉकडाउन से लेकर अब तक उनके साथ इतने प्रयोग हो गए कि बच्चे तो बच्चे टीचर्स भी कंफ्यूज दिखाई देने लगे हैं। अब एक नया तुर्रा जारी हुआ है। व्हाट्सएप पर पढ़ाई तो हो ही रही थी, अब टेस्ट भी व्हाट्सएप पर होगा और उसका मूल्यांकन भी है। जो बच्चे स्कूल में टीचर के सामने पढ़ाई नहीं करते थे, विद्वान अधिकारियों के हिसाब से वह बच्चे मोबाइल फोन पर आई व्हाट्सएप की लिंक से पढ़ाई करेंगे और जो शिक्षक स्कूल में शराब पीकर आ जाते थे अफसरों को लगता है कि वहीं शिक्षक व्हाट्सएप पर बड़ी गंभीरता से पढ़ाएंगे।

सवाल का जवाब देने के लिए 1 हफ्ते का वक्त दिया जाएगा

राज्य शिक्षा केंद्र आयुक्त ने निर्देश जारी करते हुए जिला शिक्षा अधिकारियों से कहा है कि यह प्रक्रिया प्रभावी रूप से लागू हो इसका विशेष ध्यान रखा जाए। वाट्सएप बेस्ट मूल्यांकन प्रक्रिया के तहत कक्षा 1 से लेकर 8 तक के विद्यार्थियों को वाट्सएप के माध्यम से हिंदी और गणित के प्रश्न पूछे जाएंगे। इन प्रश्नों को हल करने के लिए 1 हफ्ते का समय विद्यार्थियों के पास रहेगा। बताया जा रहा है कि अगर विद्यार्थी 4 से 5 दिन में प्रश्नों को हल कर लेता है तो उसे शिक्षक द्वारा प्रोत्साहित किया जाएगा। 

हर सप्ताह प्रतियोगिताएं होंगीः

इस प्रक्रिया के तहत हर सप्ताह प्रतियोगिताएं आयोजित होंगी। प्रतियोगिता के तहत बच्चों से 10-10 सवाल हिंदी और गणित के पूछे जाएंगे सही जवाब देने वाले विद्यार्थियों को वाट्सएप ग्रुप में ही प्रोत्साहन और शाबाशी दी जाएगी। 

इन जिलों में पहले लागू होगी व्यवस्थाः

भोपाल, विदिशा, राजगढ़, सीहोर और रायसेन जिले में व्यवस्था पहले लागू होगी। इसके तहत भोपाल राज्य शिक्षा केंद्र से अधिकारियों को वाट्सएप मोबाइल नंबर शिक्षकों को दिए जाएंगे। जिसे शिक्षकों को बेस्ट वाट्सएप असेसमेंट के नाम से सेव करना होगा। शिक्षक बाद में बच्चों व उनके पालकों को भी इसी नाम से नंबर सेव कराएंगे।

शिक्षकों की यह रहेगी जिम्मेदारीः
- वाट्सएप मूल्यांकन का दिशा निर्देश प्राप्त करें। अपने जिले के लिए वाट्सएप लिंक प्राप्त करें।
- सही दिशा निर्देश और लिंक प्राप्त करने के बाद इसकी जानकारी विद्यार्थियों एवं अभिभावकों तक पहुंचाएंगे।
- मूल्यांकन पूरा करने में विद्यार्थियों की मदद करेंगे।
- यह प्रक्रिया प्रभावी रूप से लागू हो इसके लिए शिक्षक अभिभावकों से संपर्क कर उन्हें जागरुक करेंगे।

कक्षा 1 और 2 के छात्रों की मदद करेंगे उनके अभिभावकः
वाट्सएप बेस्ट मूल्यांकन प्रक्रिया के तहत कक्षा 1 और 2 में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की मदद उनके माता-पिता, भाई-बहन कर सकेंगे। क्योंकि 1 और 2 में अध्ययनरत छात्र मोबाइल चलाने में इतने सक्षम नहीं होते हैं इसलिए उनकी मदद के लिए अभिभावक आगे आ सकते हैं।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here