Loading...    
   


उज्जैन में दमोह निवासी प्लाटून कमांडर की संदिग्ध मौत, सरकारी पिस्टल से गोली मारी / MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के उज्जैन पुलिस लाइन में प्लाटून कमांडर दीपक वैद्य काश अब उन्हीं की खबरें में मिला है। शव के साथ उनकी सरकारी पिस्टल भी मिली है। दीपक वैद्य की कनपटी पर सरकारी पिस्टल की गोली धंसी हुई थी। एसपी उज्जैन का कहना है कि पारिवारिक विवाद के चलते दीपक ने यह कदम उठाया है परंतु दीपक वैद्य के परिजनों का कहना है कि वह किसी भी सूरत में आत्महत्या जैसा कदम नहीं उठा सकता था। 

इसी महीने शादी होने वाली थी

एसपी ने बताया कि 15वीं बटालियन पुलिस लाइन में निवासरत प्लाॅटून कमांडर दीपक वैद्य ने पारिवारिक कारणों के चलते बुधवार को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मूलरूप से दमोह के रहने वाले दीपक की पहले किसी से सगाई हुई थी, किसी कारणवश वह टूट गई थी। इसके बाद एक अन्य लड़की से रिश्ता जुड़ा और इसी माह शादी होने वाली थी। शादी के कुछ दिन पहले ही दीपक ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली। 

सरकारी 9MM की पिस्टल से गोली मारी

पुलिस के अनुसार सरकारी 9 एमएम की पिस्टल से दीपक ने खुद को गोली मारी है। सूचना के बाद सिटी एडिशनल एसपी रूपेश द्विवेदी और उज्जैन शहर का कार्यभार संभाल रहे एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह व डीएसपी सुरेंद्र पाल सिंह राठौर और एचएन बाथम मौके पर पहुंचे और जानकारी ली। दीपक वैद्य के साथ ही पुलिस कर्मचारियों ने बयान दिया है कि दीपक काफी दिनों से तनाव में था।

सुसाइड नोट नहीं मिला, कोई चश्मदीद भी नहीं 


समाचार लिखे जाने तक पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार दीपक वैद्य के शव के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। इस घटना का कोई चश्मदीद गवाह भी नहीं है। सोशल मीडिया पर दीपक वैद्य के फ्रेंड्स आश्चर्यचकित हैं, वह यह मानने को तैयार नहीं है कि दीपक आत्महत्या जैसा कदम उठा सकता है। देखते हैं पुलिस की जांच में क्या कोई नया मोड़ आता है।

13 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

प्रदेश में कोरोना 4000 के पार, इंदौर 2107, भोपाल 864, 42 जिले संक्रमित
इंदौर में डॉक्टर ने बीमार युवती का रेप कर डाला, लॉकडाउन के कारण मौका मिला 
भास्कर लक्षकार IAS पर 150 करोड़ की जमीन घोटाले का आरोप
सिंधिया के साथी 3 दिन के भीतर कांग्रेस में आस्था स्पष्ट करें: रामनिवास रावत
जीवित इंसान पानी में डूब जाता है लेकिन शव तैरता रहता है, ऐसा क्यों, आइए जानते हैं
13 मई-25 जून शुक्र वक्री रहेंगे, पढ़िए आपका जीवन कितना प्रभावित होगा
भोपाल कंटेन्मेंट में लोगों को घरों से निकालकर दूसरी जगह शिफ्ट किया जा रहा है


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here