Loading...    
   


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील से उपजे सवालों के जवाब by GOI | NATIONAL NEWS

भोपाल। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 5 अप्रैल रात 9:00 बजे से 9 मिनट के लिए घरों की लाइट बंद करके दीपक, मोमबत्ती या मोबाइल की रोशनी करने की अपील की है। इसे लेकर कई तरह की अफवाहें और भ्रांतियां पैदा हो गई है। शासन की ओर से स्थिति को स्पष्ट किया गया है। शासन का कहना है कि पीएम श्री नरेंद्र मोदी ने केवल लाइट बंद करने की अपील की है, सभी बिजली उपकरण बंद करने की अपील नहीं की है। इसके अलावा स्ट्रीट लाइट और अस्पताल सहित सभी शासकीय सेवाओं में लाइट जलती रहेगी।

लाइट बंद करने से पावर ग्रिड को कोई खतरा नहीं

मध्यप्रदेश शासन की ओर से आधिकारिक सूचना दी गई है कि माननीय प्रधानमंत्री ने लोगों से अपील की है कि वे 5 अप्रैल की रात 9:00 बजे से 9:09 बजे के बीच स्वेच्छा से अपनी लाइट बंद करें। कुछ आशंकाएं व्यक्त की गई हैं कि इससे ग्रिड में अस्थिरता हो सकती है और वोल्टेज में उतार-चढ़ाव हो सकता है जो विद्युत उपकरणों को नुकसान पहुंचा सकता है, ये आशंकाएं गलत हैं। भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय द्वारा स्पष्ट किया गया है कि भारतीय बिजली ग्रिड मजबूत और स्थिर है और मांग में भिन्नता को संभालने के लिए पर्याप्त व्यवस्था और प्रोटोकॉल मौजूद हैं।

सर्च लाइट बंद करना है, कंप्यूटर, टीवी, पंखा, फ्रिज और एसी नहीं

माननीय प्रधानमंत्री की अपील है कि 5 अप्रैल को रात 9 बजे से 9.09 बजे तक अपने घरों में रोशनी बंद करें। घरों में कम्प्यूटर, टीवी, पंखा, रेफ्रिजरेटर और एसी जैसे स्ट्रीट लाइट या उपकरणों को बंद करने के लिए कोई आव्हान नहीं किया गया है, केवल रोशनी को बंद किया जाना है। 

अस्पताल एवं सभी आवश्यक सेवाएं, स्ट्रीट लाइट चालू रहेंगे

अस्पतालों में रोशनी और अन्य सभी आवश्यक सेवाएं जैसे सार्वजनिक उपयोगिताओं, नगरपालिका सेवाओं, कार्यालयों, पुलिस स्टेशनों, विनिर्माण सुविधाओं आदि में विद्युत का उपयोग किया जाएगा। सभी स्थानीय निकायों को सार्वजनिक सुरक्षा के लिए स्ट्रीट लाइट को चालू रखने की सलाह दी गई है।

03 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

उज्जवला योजना: फ्री सिलेंडर का पैसा किसके अकाउंट में कब आएगा, पढ़िए
सीएम सर, क्या कोरोना ड्यूटी में सभी कर्मचारियों को समान लाभ मिलेंगे
भागकर घर में छुपा कोरोना मरीज, 12 घरवालों को पॉजिटिव कर गया
मंगलयान की तरह यदि AC को भी बार-बार ऑन-ऑफ करें तो क्या आधी बिजली खर्च होगी
इंदौर की महिला डॉक्टर लखनऊ से संक्रमित होकर आई थी: MGM रिपोर्ट
इंदौर में डॉक्टरों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, पथराव, संक्रमण की जांच करने गए थे
योद्धाओं की मूर्ति में घोड़ों की टांगे कभी ऊपर कभी नीचे क्यों होती है
MP BOARD 10th-12th के बाकी बचे पेपर कब होंगे, यहां पढ़िए


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here