Loading...    
   


भोपाल में दिग्विजय सिंह के जाते ही खाने के पैकेट बांटना बंद, लोग भूखे लौटे | BHOPAL NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी लगातार दावा कर रही है कि वह प्रतिदिन कम से कम 25000 लोगों को भोजन के पैकेट बांट रही है परंतु आज उस समय कांग्रेस की पोल खुल गई जब दिग्विजय सिंह अपनी पत्नी अमृता राव सिंह के साथ गरीबों को भोजन के पैकेट बांटने आए। मीडिया की मौजूदगी में उन्होंने करीब 15 मिनट तक लोगों को भोजन के पैकेट वितरित किए। उनके जाते ही भोजन का वितरण भी बंद कर दिया क्या।

चार पूड़ी और एक चम्मच सब्जी के लिए घंटों इंतजार करवाया 

दिग्विजय सिंह और उनकी पत्नी जब भोजन वितरण करें तो मीडिया को भीड़ दिखाई देनी चाहिए इसलिए जब तक दिग्विजय सिंह नहीं आ गए भोजन वितरण का कार्यक्रम शुरू नहीं किया गया। मात्र चार पूड़ी और एक चम्मच सब्जी के लिए तेज धूप में लोग 1 घंटे से ज्यादा लाइन में लगे रहे। लोग निर्धारित समय से एक घंटा पहले आ गए थे और दिग्विजय सिंह निर्धारित समय के 45 मिनट बाद आए। करीब 2 घंटे तक लोग लाइन में लगे रहे।

बैरागढ़ की बस्तियों में मुनादी कराई थी, सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं किया

प्रदेश कांग्रेस द्वारा बैरागढ़ के कम्यूनिटी हॉल में गरीबों को भोजन उपलब्ध कराने के लिए शनिवार से रसोई शुरू की गई है। सुबह से ही बस्तियों में सूचना दे दी गई की दोपहर में मुफ्त भोजन बांटा जाएगा और पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह पूड़ी बांटने के कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे। दिग्विजय सिंह के आने से पहले ही। आयोजन स्थल पर लंबी-लंबी कतारें लग गईं। चार पूड़ी और एक चम्मच सब्जी के चक्कर में लोगों सोशल डिस्टेंसिंग का जरा भी पालन नहीं किया। लोग जब काउंटर पर पहुंचते तब कांग्रेस कार्यकर्ता लोगों को दूर-दूर खड़ा कर देते। 

दिग्विजय सिंह की जाते ही भूखे गरीबों को भगा दिया 


बस्ती में मुनादी के कारण लोगों ने सुबह का भोजन नहीं बनाया। लोग लाइन में जाकर लग गए। बताया गया था कि आज का भोजन कांग्रेस पार्टी की तरफ से है। दिग्विजय सिंह तय समय से करीब 45 मिनट देरी से यहां पहुंचे और इससे करीब एक घंटे पहले से ही लंबी-लंबी कतारें लग गईं। दिग्विजय ने 15 मिनट तक गरीबों को भोजन के पैकेट दिए। इसके बाद वो चले गए। थोड़ी देर बाद भोजन वितरण भी समाप्त कर दिया गया। पैकेट लेने के लिए लोगों की लंबी लाइन अभी भी लगी हुई थी। इस पर आयोजकों ने कह दिया कि अब शाम को आना। लोगों को भूखे पेट वापस लौटना पड़ा।

03 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

उज्जवला योजना: फ्री सिलेंडर का पैसा किसके अकाउंट में कब आएगा, पढ़िए
सीएम सर, क्या कोरोना ड्यूटी में सभी कर्मचारियों को समान लाभ मिलेंगे
भागकर घर में छुपा कोरोना मरीज, 12 घरवालों को पॉजिटिव कर गया
मंगलयान की तरह यदि AC को भी बार-बार ऑन-ऑफ करें तो क्या आधी बिजली खर्च होगी
इंदौर की महिला डॉक्टर लखनऊ से संक्रमित होकर आई थी: MGM रिपोर्ट
इंदौर में डॉक्टरों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, पथराव, संक्रमण की जांच करने गए थे
योद्धाओं की मूर्ति में घोड़ों की टांगे कभी ऊपर कभी नीचे क्यों होती है
MP BOARD 10th-12th के बाकी बचे पेपर कब होंगे, यहां पढ़िए


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here