GWALIOR NEWS: पति को कुंए में फेंका ऊपर से पेड़ लगा दिये

ग्वालियर।
 मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में एक पत्नी ने प्रेमी और उसके दोस्त के हाथों पति की हत्या करा दी। फिर गुमशुदगी दर्ज कराकर पुलिस को 11 महीने तक गुमराह करती रही। पुलिस उस पर शक न करे इसलिए कोर्ट में भी बार-बार पुलिस पर पति की तलाश न करने का आरोप लगाते हुए अर्जी लगाती रही। 

11 महीने बाद पता चला कि जिसे पुलिस तलाश रही है, उसकी हत्या हो चुकी है और यह हत्या उसकी पत्नी और अन्य लोगों ने ही की है। हस्तिनापुर स्थित चपरोली मौजा के एक खेत में बने पुराने कुएं से उसके पति का कंकाल बरामद हुआ है। आरोपियों ने कुएं में लाश फेंकने के बाद उस पर लकड़ी के पटिए रख ऊपर से मिट्‌टी डाल कर पौधा लगा दिया था, जो इन 11 महीनों में पेड़ बन चुका था। पुलिस ने आरोपी पत्नी, उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है। दोस्त फरार है। आरोपी महिला ने पुलिस को गुमराह करने और हत्या से लेकर शव ठिकाने लगाने की साजिश क्राइम पेट्रोल से सीखी।

भितरवार के मोहनगढ़ निवासी फेरन सिंह जाटव (35 साल) 11 महीने पहले 6 अगस्त को गायब हो गया था। पत्नी मालती (30 साल) ने भितरवार थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जांच SDOP भितरवार अभिनव बारंगे को सौंपी गई। इधर, पत्नी ने पुलिस पर पति की तलाश न करने का आरोप लगाते हुए कोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण रिट दायर कर दी। कोर्ट में मामला जाते ही पुलिस और गहराई से जांच में जुट गई। पड़ताल में पता चला कि मालती का चाल-चलन ठीक नहीं है। कृपालपुर निवासी रामअवतार जाटव से उसके अफेयर की बात सामने आई। उधर, लापता फेरन के भाई ने भी अपनी भाभी पर संदेह जताया था, लेकिन पुलिस के सामने परेशानी यह थी कि जब भी सख्ती से पूछताछ करना चाहती, मालती कोर्ट में जाकर खड़ी हो जाती।

ऐसे में पुलिस ने मालती की जगह, उसके प्रेमी राम अवतार की ओर अपना फोकस किया। पुलिस ने राम अवतार को लगातार चार दिन बुलाकर पूछताछ की। हर बार उसके बयान अलग-अलग होते थे। पुलिस ने जब सख्ती की तो उसने सब कुछ उगल दिया। राम अवतार ने बताया कि उसने, मालती और दोस्त शिवराज के साथ फेरन की हत्या कर दी। शिवराज अभी फरार है। पुलिस मालती के घर पहुंची और उसे सामान्य पूछताछ का कहकर थाने ले आई। यहां राम अवतार को हिरासत में देख मालती ने भी अपना जुर्म स्वीकार कर लिया।

मालती और राम अवतार के बीच अवैध संबंध थे। इसका पता उसके पति को चल गया था। 6 अगस्त 2020 को फेरन सिंह को पार्टी करने के लिए शिवराज और राम अवतार ग्वालियर के हस्तिनापुर स्थित चपरोली मौजा के एक खेत में ले गए। यहां पत्नी के सामने राम अवतार और शिवराज ने पत्थर और लोहे के सरिए से हमला कर फेरन की हत्या कर दी। इसके बाद शव को एक पुराने कुएं में फेंक दिया और ऊपर से मिट्‌टी डालकर पौधा लगा दिया। मालती की निशानदेही पर पुलिस ने कुएं से पौधा जो अब पेड़ बन चुका था, को कटवाया। गोताखोर ने कुएं से कंकाल बरामद किया।

27 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्य प्रदेश मानसून- 9 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी, पूरे प्रदेश में बारिश होगी
MP NEWS- JABALPUR का युवक, 2 मंत्रियों का कथित निजी सचिव, गिरफ्तार
MP BOARD 12th RESULT DATE घोषित, ऐसे चेक करें
MP NEWS- कर्मचारियों के इंक्रीमेंट के संबंध में वित्त विभाग का स्पष्टीकरण
MP NEWS- दुष्कर्म पीड़ित छात्रा का शोषण करने वाले शिक्षक को गुरु पूर्णिमा के दिन 5 साल की जेल 
INDORE NEWS- स्कूल तो खुले लेकिन स्टूडेंट्स नहीं आए
GWALIOR NEWS- ज्योतिरादित्य सिंधिया के OSD कांग्रेस के टारगेट पर, भोपाल से उठा सवाल
EMPLOYEE NEWS- बैन हट गया लेकिन तबादले नहीं हो रहे, कर्मचारी परेशान
MP NEWS- कांग्रेस के पूर्व मंत्री ने कलेक्टर को निकम्मा, बेवकूफ और... कहा
MP NEWS- चयनित शिक्षकों ने बीजेपी प्रदेश कार्यालय में प्रदर्शन किया
EMPLOYEE NEWS- मप्र में हड़ताली कर्मचारियों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई होगी
 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiत्रिपुंड का वैज्ञानिक महत्व क्या है, दिखावे के लिए तो नहीं लगाते, यहां पढ़िए 
GK in Hindiहार्ड डिस्क की क्षमता, GB और TB के बाद क्या आता है
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
GK in Hindi₹1 के नोट पर गवर्नर के हस्ताक्षर क्यों नहीं होते हैं 
GK in Hindiइंसान को शेर कहना शान और गधा कहना अपमान क्यों माना जाता है 
GK in Hindi- खतरे का रंग लाल क्यों होता है काला क्यों नहीं
GK in Hindiपुष्पक विमान किस ईंधन से चलता था, पेट्रोल और बैटरी तो उस समय होते नहीं थे
GK in Hindi- हिटलर की मूछें टूथब्रश जैसी क्यों थी, योद्धाओं जैसी क्यों नहीं, पढ़िए
GK in Hindiबर्फ का टुकड़ा पानी में तैरता है तो फिर शराब में क्यों डूब जाता है 
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com