INDORE NEWS- स्कूल तो खुले लेकिन स्टूडेंट्स नहीं आए

इंदौर
। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्राइवेट स्कूल संचालकों की हड़ताल के दबाव में दिए गए आदेश के बाद 26 जुलाई 2021 को स्कूल तो खुले लेकिन क्लास रूम खाली रहे क्योंकि स्टूडेंट्स नहीं आए। ज्यादातर स्कूलों ने तो स्टूडेंट्स को आने के लिए सूचना तक नहीं भेजी थी। 

इंदौर के किसी भी स्कूल में 10 विद्यार्थी तक नहीं थे

इंदौर शहर में आज सरकारी हो या प्राइवेट सभी स्कूलों में तय समय पर बच्चे दहाई का अंक भी पार नहीं कर पाए। ऐसे में पहले दिन 5 फीसदी बच्चे भी स्कूल नहीं आए। कहीं, 5 तो कहीं 8 बच्चे पहुंचे। सरकारी स्कूल संचालकों के हाथ पांव फूल गए। टीचर्स ने पर्सनली फोन लगाकर थोड़ी देर के लिए बच्चों को बुलाया ताकि संख्या दिखाई दे और फोटो खींचे जा सके।

प्राइवेट स्कूल संचालक माहौल देख रहे हैं 

दरअसल, प्राइवेट स्कूल संचालक माहौल देख रहे हैं। स्कूल खोलने का आदेश हो जाने के बाद हाईकोर्ट का ट्यूशन फीस वाला आदेश निष्प्रभावी मान लिया गया है। इसलिए अब स्कूल संचालकों को फीस की कोई परवाह नहीं है। वैसे भी इस साल स्कूल संचालकों ने फेसबुक कुछ इस तरीके से एडजेस्ट किया है कि स्कूल खोलें या ना खोलें, उन्हें घाटा नहीं होगा। स्कूल संचालक तीसरी लहर की रिस्क लेना नहीं चाहते। यदि बच्चे बीमार हो गए तो संभालना मुश्किल हो जाएगा। इसलिए माहौल देख रहे हैं।

26 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP EMPLOYEE NEWS- मध्यप्रदेश के 43 कर्मचारी संगठन हड़ताल की तैयारी में
MPTET वर्ग 3 EXAM NOTIFICATION- परीक्षा तिथि घोषित, 2018 से इंतजार था
मध्य प्रदेश मानसून- 10 जिलों में भारी वर्षा शेष में मौसम सुहावना रहेगा
MP NEWS- मीटिंग में, मुख्यमंत्री को गोली मारो- कहने वाला शिक्षक सस्पेंड
EMPLOYEE NEWS- मप्र में हड़ताली कर्मचारियों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई होगी
EMPLOYEE NEWS- बैन हट गया लेकिन तबादले नहीं हो रहे, कर्मचारी परेशान
MP SCHOOL NEWS- 1 दिन की पढ़ाई के लिए सप्ताह भर की फीस क्यों दें, पेरेंट्स का सवाल
MP NEWS- 5 जिलों में SCST रोजगार के लिए देवारण्य योजना
INDORE NEWS- MPPSC परीक्षा के दिन छात्र की लाश फांसी पर लटकी मिली, BALAGHAT का रहने वाला था
BHOPAL NEWS- एमपीपीएससी के 135 उम्मीदवारों की किस्मत की बत्ती गुल
 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindi- त्रिपुंड का वैज्ञानिक महत्व क्या है, दिखावे के लिए तो नहीं लगाते, यहां पढ़िए 
GK in Hindiहार्ड डिस्क की क्षमता, GB और TB के बाद क्या आता है
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
GK in Hindi₹1 के नोट पर गवर्नर के हस्ताक्षर क्यों नहीं होते हैं 
GK in Hindiइंसान को शेर कहना शान और गधा कहना अपमान क्यों माना जाता है 
GK in Hindi- खतरे का रंग लाल क्यों होता है काला क्यों नहीं
GK in Hindiपुष्पक विमान किस ईंधन से चलता था, पेट्रोल और बैटरी तो उस समय होते नहीं थे
GK in Hindi- हिटलर की मूछें टूथब्रश जैसी क्यों थी, योद्धाओं जैसी क्यों नहीं, पढ़िए
GK in Hindiबर्फ का टुकड़ा पानी में तैरता है तो फिर शराब में क्यों डूब जाता है 
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here