EMPLOYEE NEWS- बैन हट गया लेकिन तबादले नहीं हो रहे, कर्मचारी परेशान

भोपाल
। मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आदेश के बाद शासकीय कर्मचारियों एवं अधिकारियों के ट्रांसफर पर लगा हुआ बैन, हटा दिया गया। बावजूद इसके दिनांक 1 जुलाई से 25 जुलाई तक कुछ खास तबादले नहीं हुए। जबकि लगभग 25000 कर्मचारियों ने ट्रांसफर के लिए एप्लीकेशन दी है।

मंत्रियों ने ट्रांसफर लिस्ट भेज दीं, मंत्रालय में अटकी हैं 

तबादला नीति में मंत्रियों को यह अधिकार दिए गए थे कि वह अपने अधिकार क्षेत्र में शासकीय अधिकारी एवं कर्मचारियों के तबादले के लिए नोट शीट तैयार करके मंत्रालय भेजें। किस स्तर के कर्मचारी एवं अधिकारी का प्रभारी मंत्री अथवा विभागीय मंत्री द्वारा तबादला किया जाएगा, स्पष्ट बताया गया था। मंत्रियों ने प्राप्त आवेदनों के आधार पर नोटिस बनाकर मंत्रालय भेज दी परंतु मंत्रालय से ट्रांसफर आर्डर जारी नहीं हो रहे हैं।

मध्य प्रदेश में शासकीय कर्मचारियों के ट्रांसफर किसने रोके 

दरअसल मंत्रालय में विभागों के अपर मुख्य सचिव अथवा प्रमुख सचिव ने मंत्रियों के पास से आई ट्रांसफर लिस्ट को रोक दिया है। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि मध्य प्रदेश की ट्रांसफर पॉलिसी में प्रत्येक ट्रांसफर के लिए अपर मुख्य सचिव अथवा प्रमुख सचिव को जिम्मेदार बताया गया है। स्पष्ट लिखा है कि किसी भी ट्रांसफर पर विवाद नहीं होना चाहिए। मामला कोर्ट में गया तो मंत्री नहीं बल्कि अफसर जिम्मेदार होंगे। नौकरशाह कोई बहाना ना बना पाए इसलिए व्यवस्था दी गई है कि ट्रांसफर की लिस्ट ब्यूरोक्रेट्स के ऑफिशियल ईमेल से जारी की जाएगी।

एमपी में अधिकारी कर्मचारियों के तबादले में परेशानियां 

कहा जा रहा है कि कुछ मंत्रियों ने अपने डिपार्टमेंट में 30% कर्मचारियों के ट्रांसफर अनुमोदित कर दिए जबकि पॉलिसी के अनुसार 10% से अधिक ट्रांसफर नहीं किए जा सकते।
शासकीय अधिकारी एवं कर्मचारियों के तबादलों के लिए विधायक सबसे ज्यादा दबाव बना रहे हैं। मंत्री और मंत्रालय से लेकर सीएम हाउस तक दौड़-धूप की जा रही है। इसके चलते एक दबाव बन गया है और उससे बचने के लिए ट्रांसफर लिस्ट रोक दी गई।
अब सभी समस्याओं को कैबिनेट की बैठक में डिस्कस किया जाएगा। मंत्री और मंत्रालय एक सुर में कह रहे हैं कि इस समस्या का समाधान शिवराज ही सुझाएंगे। 

26 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

BHOPAL NEWS- एमपीपीएससी के 135 उम्मीदवारों की किस्मत की बत्ती गुल
EMPLOYEE NEWSमध्यप्रदेश के 43 कर्मचारी संगठन हड़ताल की तैयारी में
MP ELECTION NEWS- कमलनाथ और 40 MLA के सामने शिवराज की फाइटर-15 टीम घोषित
MP NEWS- 5 जिलों में SCST रोजगार के लिए देवारण्य योजना
MPWRD TRANSFER LIST- कुल 23 इंजीनियरों के तबादले
INDORE NEWS- MPPSC परीक्षा के दिन छात्र की लाश फांसी पर लटकी मिली, BALAGHAT का रहने वाला था
MP NEWS- मीटिंग में, मुख्यमंत्री को गोली मारो- कहने वाला शिक्षक सस्पेंड
MP SCHOOL NEWS- 1 दिन की पढ़ाई के लिए सप्ताह भर की फीस क्यों दें, पेरेंट्स का सवाल
INDORE NEWS- पंकज खानचंदानी महिला अतिथि शिक्षक से 50 लाख की ठगी के मामले में गिरफ्तार
EMPLOYEE NEWSगलत वेतन निर्धारण- एएसआई से वसूला गया ब्याज वापस करो: हाईकोर्ट का आदेश 
EMPLOYEE NEWSशिक्षा विभाग की स्थानांतरण नीति में दोष, कर्मचारी संघ असंतुष्ट 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiहार्ड डिस्क की क्षमता, GB और TB के बाद क्या आता है
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
GK in Hindi₹1 के नोट पर गवर्नर के हस्ताक्षर क्यों नहीं होते हैं 
GK in Hindiइंसान को शेर कहना शान और गधा कहना अपमान क्यों माना जाता है 
GK in Hindi- खतरे का रंग लाल क्यों होता है काला क्यों नहीं
GK in Hindiपुष्पक विमान किस ईंधन से चलता था, पेट्रोल और बैटरी तो उस समय होते नहीं थे
GK in Hindiआवारा गाय सड़क के बीच क्यों बैठतीं हैं, क्या सुसाइड करना चाहतीं हैं 
GK in Hindi- हिटलर की मूछें टूथब्रश जैसी क्यों थी, योद्धाओं जैसी क्यों नहीं, पढ़िए
GK in Hindiबर्फ का टुकड़ा पानी में तैरता है तो फिर शराब में क्यों डूब जाता है 
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here