Loading...    
   


हाफ सेंचुरी से पहले कैच क्यों पकड़ा, बैट्समैन ने फील्डर का सिर फोड़ दिया - GWALIOR NEWS

ग्वालियर।
 मध्य प्रदेश के मेला ग्राउंड में क्रिकेट मैच के दौरान हाफ सेंचुरी से पहले 49 रन पर आउट हो जाने वाले बैट्समैन को इतना गुस्सा आया कि उसने कैच पकड़ने वाले फील्डर का सिर फोड़ डाला। जब तक साथी खिलाड़ी रोक पाते तब तक वह सिर पर ताबड़तोड़ कई वार कर चुका था। कैच पकड़ने वाला युवक गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है। समाचार लिखे जाने तक उसे होश नहीं आया था।

भितरवार निवासी विवेक पाराशर यहां एक निजी कंपनी में जॉब करता है। साथ ही गोला का मंदिर वनखंडेश्वर कॉलोनी में किराए से रहता है। शनिवार सुबह उसका भाई सचिन उर्फ सत्येंद्र पाराशर (23) क्रिकेट खेलने के लिए गया था। दोपहर 12 बजे तक जब वह नहीं लौटा तो विवेक सचिन को देखने पहुंचा। जिस समय वह वहां पहुंचे तो उसका भाई मैच खेल रहा था। इसी समय संजय पालिया बल्लेबाजी कर रहा था। वह 49 रन पर खेल रहा था। तभी सचिन ने उसका कैच पकड़ लिया। इससे संजय इतना खफा हुआ कि वह गालियां देने लगा।

सचिन ने विरोध किया तो संजय बैट लेकर उस पर टूट पड़ा। खेल-खेल में वह हत्या के प्रयास तक पर उतर आया। उसने सचिन के सिर में इतने बैट मारे कि वह वहीं बेहोश हो गया। जब तक उसका भाई बचाने पहुंचा हमलावर भाग गया। सचिन के सिर से खून बह रहा था। गंभीर हालत में उसे जेएएच (जयारोग्य हॉस्पिटल) के ICU में उसे भर्ती किया गया है। मामले की सूचना गोला का मंदिर को दी गई। रविवार को पुलिस ने हमलावर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

एक दिन बाद भी बेहोश है फील्डर

आरोपी बल्लेबाज ने फील्डर सचिन को सिर और चेहरे पर ही बैट मारे हैं। घटना स्थल पर वह बेहोश हो गया था। घटना शनिवार दोपहर 12 बजे की है। घायल की हालत गंभीर है और उसे रविवार दोपहर 3 बजे तक होश नहीं आया था। सचिन को नहीं पता था कि एक कैच उसकी जान पर भारी पड़ जाएगा। वह बीते 24 घंटे से जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा है।

04 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here