Loading...    
   


महिला के लिए "क्या आइटम है" अपमानजनक है या सम्मान सूचक है, चुनाव आयोग फैसला करेगा - MP NEWS

भोपाल
। किसी महिला के लिए "क्या आइटम है" कहना, अपमानजनक है या फिर सम्मान सूचक इसका फैसला चुनाव आयोग करेगा। चुनाव आयोग ने कमलनाथ के "क्या आइटम है" वाले बयान की पूरी रिपोर्ट बनाई थी और चुनाव आयोग को रिपोर्ट प्राप्त हो गई है। 

कमलनाथ का कहना है कि आइटम शब्द से किसी का अपमान नहीं होता

मध्य प्रदेश की कैबिनेट मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी की महिला प्रत्याशी श्रीमती इमरती देवी के बारे में कमलनाथ ने "क्या आइटम है" वाक्य का उपयोग किया और उसके बाद ठहाके लगाए। वीडियो के वायरल होते ही कमलनाथ की निंदा की गई एवं अपेक्षा की गई कि वह तत्काल अपने शब्दों के लिए क्षमा मांगेंगे परंतु कमलनाथ ने ऐसा नहीं किया। उल्टा दलील देने लगे कि आइटम शब्द का उपयोग कई प्रकार से किया जाता है, यह अपमानजनक नहीं है। 

किसी महिला के बारे में "क्या आइटम है" कह कर हंसना अपमानजनक है या नहीं 

चुनाव आयोग को अब यह फैसला करना है कि किसी महिला प्रत्याशी के बारे में स्टार प्रचारक द्वारा "क्या आइटम है" कह कर हंसना अपमानजनक है या नहीं। चुनाव आयोग के पास रिपोर्ट पहुंच चुकी है। उम्मीद है जल्द ही इस मामले में फैसला भी आएगा।

20 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here