Loading...    
   


कमलनाथ ने कैबिनेट मंत्री इमरती देवी को "आइटम" कहा, चुनाव आयोग से शिकायत, प्रतिबंध भी लग सकता है - GWALIOR NEWS

ग्वालियर
। मध्यप्रदेश विधानसभा उपचुनाव में भाषा की मर्यादा लगातार तोड़ी जा रही है। पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने डबरा विधानसभा क्षेत्र में आयोजित कांग्रेस की आम सभा को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी एवं कैबिनेट मंत्री श्रीमती इमरती देवी को "आइटम" कह डाला।

मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, ये क्या आइटम है: कमलनाथ

पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने आमसभा को संबोधित करते हुए भाजपा प्रत्याशी एवं कैबिनेट मंत्री श्रीमती इमरती देवी के बारे में कहा कि " आप तो उसे मुझसे ज्यादा पहचानते हैं, आपको मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, ये क्या आइटम है। (इतना कहने के बाद श्री कमलनाथ ने जनता की तरफ देखा, खिलखिला कर हंसे, फिर दोहराया ये क्या आइटम है, और मुस्कुराए, उनके समर्थकों ने तालियां बजाई और ठहाके लगाए।) 

पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल ने इमरती देवी को "जलेबी" कहा था 

इससे पहले कांग्रेस नेता एवं पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल ने भाजपा प्रत्याशी श्रीमती इमरती देवी के बारे में कहा कि "मैं कमलनाथ जी के संग कई जगह पर जनसभा करके आया हूं। लेकिन आज डबरा में जो जनसभा देखी वैसे मैंने कहीं नहीं देखी और मुझे पूरा विश्वास है कि जनता आने वाले 3 नवंबर को इमरती देवी को जलेबी बना देगी।

सीएम शिवराज सिंह ने कहा: कमलनाथ माफी मांगे

खुद को ‘मर्यादा पुरुषोत्तम’ बताने वाले ऐसी ‘अमर्यादित भाषा’ का प्रयोग कर रहे हैं? नवरात्रि के पावन पर्व पर देश नारी की उपासना कर रहा है, ऐसे में आपके बयान से आपकी ओछी मानसिकता झलकती है। बेहतर होगा कि आप अपने शब्द वापिस लें और इमरती देवी सहित प्रदेश की हर बेटी से माफी माँगें।

ये बयान कमलनाथ की मानसिकता को दर्शाता है: ज्योतिरादित्य सिंधिया

एक गरीब और मजदूर परिवार से आगे आईं दलित नेता इमरती देवी जी को आज डबरा में आइटम और जलेबी कहना अत्यंत निंदनीय और आपत्तिजनक है - ये कमलनाथ जी की मानसिकता को भी दर्शाता है। महिलाओं के साथ ही समूचे दलित समाज का अपमान करने वाले ऐसे मगरूर नेता को सबक सिखाने का समय आ गया है। 

कमलनाथ की चुनाव आयोग से शिकायत 

भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की चुनाव आयोग से शिकायत की है। अनुसूचित जाति वर्ग की महिला प्रत्याशी के खिलाफ अभद्रता के मामले में चुनाव आयोग कमलनाथ को चुनाव प्रचार के लिए प्रतिबंधित कर सकता है।

18 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here