Loading...    
   


MP CORONA गुड न्यूज़: संक्रमितों की संख्या 1000 से नीचे, लेकिन 25 लोगों की मौत - UPDATE NEWS

भोपाल
। मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस का संक्रमण तो कम हो रहा है परंतु संक्रमित नागरिकों की मौत के आंकड़े कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। लंबे समय के बाद आज की सरकारी रिपोर्ट में पिछले 24 घंटे में मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस से संक्रमित नागरिकों की संख्या 1000 से कम दर्ज हुई है लेकिन इसी रिपोर्ट में संक्रमण से मरने वाले नागरिकों की संख्या 25 है। यानी वायरस का संक्रमण कम हुआ है लेकिन वायरस कमजोर नहीं हुआ है। अत्यंत सावधानी अनिवार्य है। इसके अलावा भोपाल एवं इंदौर के हालात अभी भी गंभीर बने हुए हैं।

MADHYA PRADESH CORONA BULLETIN 20 OCTOBER 2020

संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं, मध्य प्रदेश द्वारा जारी कोरोनावायरस मीडिया बुलेटिन दिनांक 20 अक्टूबर 2020 (शाम 6:00 बजे तक) के अनुसार पिछले 24 घंटे में:- 
23093 सैंपल की जांच की गई।
181 सैंपल रिजेक्ट हो गए।
22118 सैंपल नेगेटिव पाए गए।
975 सैंपल पॉजिटिव पाए गए।
25 मरीजों की मौत हो गई।
1439 मरीज डिस्चार्ज किए गए।
मध्यप्रदेश में संक्रमित नागरिकों की कुल संख्या 162178 
मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 2811 
मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस से स्वस्थ हुए नागरिकों की संख्या 146860 
20 अक्टूबर 2020 को संक्रमित नागरिकों की संख्या 12507

CORONA (COVID-19) UPDATE NEWS TODAY 20 OCTOBER 2020 

✔ प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम संबोधन में आज कहा है कि लॉकडाउन खत्म हुआ है, कोरोनावायरस खत्म नहीं हुआ है। इन दिनों में बेहद सावधानी की जरूरत है। यदि लापरवाही की गई तो देश को भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है। 
✔ प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोनावायरस की वैक्सीन जब भी आएगी, हम पूरी तैयारी कर रहे हैं कि एक एक नागरिक तक पहुंचाई जाए।
✔ ब्रिटेन के वैज्ञानिकों का कहना है कि टीकाकरण के बाद भी कोविड-19 पूरी तरह से खत्म नहीं होगा। दूसरे संक्रामक रोगों की तरह यह भी हर साल लोगों को प्रभावित करता रहेगा।

✔ दुनिया भर में कोरोनावायरस का अध्ययन कर रहे भारत के विशेषज्ञों का कहना है कि फरवरी 2021 तक भारत की आधी आबादी संक्रमण का शिकार हो सकती है। क्योंकि कोविड-19 कमजोर नहीं हुआ है।
✔ भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (Indian Council of Medical Research) का कहना है कि यदि कोई व्यक्ति संक्रमण का शिकार होकर स्वस्थ हो चुका है तो इसका मतलब यह नहीं है कि वह दोबारा संक्रमण का शिकार नहीं होगा। उसे खतरा ज्यादा है। फेस मास्क और दूसरे प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से पालन करना चाहिए। 

✔ अमेरिका में एरिजोना से टेक्सास जाने वाली फ्लाइट में करीब 30 वर्ष आयु की एक महिला की तबीयत अचानक खराब हुई और उसकी मृत्यु हो गई। जांच में पाया गया कि वह पॉजिटिव थी। चौंकाने वाली बात यह है कि पॉजिटिव होने के बावजूद उसे एयरपोर्ट में प्रवेश कैसे मिला।
✔ यूरोप और दूसरे देशों में कोरोनावायरस की दूसरी लहर की खबरों के बीच भारत में सोशल मीडिया पर मांग उठ रही है कि अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को ज्यादा से ज्यादा प्रतिबंधित कर दिया जाए। फरवरी 2021 तक, जब तक बहुत अनिवार्य ना हो किसी भी व्यक्ति को विदेश से भारत में प्रवेश ना दिया जाए।




20 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here