Loading...    
   


एक साथ कई कामों में लगाए गए शिक्षक, अर्जित अवकाश देने की मांग / EMPLOYEE NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश शासन द्वारा शिक्षकों के लिए ग्रीष्मावकाश घोषित कर दिया है,शिक्षकों का आरोप है कि इस समय शिक्षक रिजल्ट तैयार करने के अलावा, ऑनलाइन शिक्षण, छात्रवृत्ति, मध्यान्ह भोजन खाता अपग्रेडेशन जैसे कार्यों में एक साथ लगे हुए हैं, इसके बावजूद स्कूल शिक्षा विभाग और राज्य शिक्षा केंद्र नित नए आदेश जारी कर शिक्षको मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का काम कर रहा है। 

शिक्षकों के अनुसार इन कार्यों के अलावा शिक्षकों को प्रथक से जिला कलेक्टर स्थानीय अनुविभागीय अधिकारियों के निर्देश पर कोविड 19 के विभिन्न आयामों में भी ड्यूटी करना पड़ रही है, ऐसे में प्रदेश का शिक्षक बदहवासी के आलम से गुजर रहा है, शिक्षकों के अनुसार उन्हें समझ में नहीं आ रहा है कि इतने सारे आदेशों का पालन व एक साथ कैसे करें, समग्र शिक्षक संघ का कहना है कि शिक्षक छुट्टियों में भी ड्यूटी पर है ग्रीष्मावकाश में कार्य के बदले विभाग द्वारा अर्जित अवकाश की पात्रता घोषित नहीं की जा रही है। 

शिक्षक प्रदेश भर में संक्रमित स्थानों, कंटेनमेंट एरिया में सर्वे, अनाउंसिंग, भोजन व्यवस्था,मजदूरों को ले जाने, स्क्रीनिंग में शिक्षक पूरी मुस्तैदी से काम कर रहे हैं। इसके बावजूद शासन ने शिक्षकों को कोरोना योद्धा के रूप में शामिल करने के स्पष्ट निर्देश नहीं दिए है। इसके कारण शिक्षकों में असुरक्षा का भाव व्याप्त है। शिक्षकों को कोरोना योद्धा योजना में शामिल कर बीमा सुरक्षा योजना का लाभ देने के लिए विभाग की ओर से स्पष्ट निर्देश प्रसारित किया जाना चाहिए, साथ ही विश्राम अवकाश अवधि में ड्यूटी कर रहे शिक्षकों को अर्जित अवकाश की पात्रता घोषित करना चाहिए, इस संबंध में संगठन विभाग को पत्र भी लिख चुका है। 

एक साथ अनेक कार्यों में लगाए जाने के बावजूद प्रदेश भर में जिला शिक्षा केंद्रों ,जनपद शिक्षा केंद्रों द्वारा शिक्षकों को ई-एजुकेशन के लिए लगातार दबाव बनाया जा रहा है l इससे शिक्षकों में  तनाव व्याप्त हो रहा हैं राज्य शिक्षा केंद्र और स्कूल शिक्षा विभाग एनजीओ और प्राइवेट स्कूलों को फायदा पहुंचाने के लिए ई एजुकेशन पर जोर दे रहा है, जमीनी तौर पर देखा जाए तो सरकारी स्कूलों में गरीब छात्र पढ़ते हैं, प्राथमिक, माध्यमिक स्तर के 90% बालकों /पालकों के पास एंड्राइड मोबाइल  नहीं है। बावजूद इसके शिक्षकों से बच्चों के व्हाट्सएप ग्रुप बनाने और उसका प्रतिदिन फीडबैक देने, फोटो भेजने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। 

प्रदेश भर में शिक्षकों में से नाराजगी बढ़ रही है! शिक्षक प्रतिनिधियों ने विभाग को इस मुद्दे पर समीक्षा करते हुए शिक्षकों को विश्राम अवकाश अवधि में कर दिए जाने पर अर्जित अवकाश देने, 55 वर्ष से अधिक और बीमार शिक्षकों को कोविड 19 से जुड़ी किसी भी प्रकार की गैर शिक्षकीय ड्यूटी से मुक्त रखने, तथा उल्लेखित ड्यूटी से जुड़े अन्य अन्य शिक्षकों की सुरक्षा हेतु कोरोना योद्धा घोषित करने के स्पष्ट निर्देश विभागीय स्तर से प्रसारित किए जाने की मांग की है।

मांग करने वाले शिक्षक प्रतिनिधियों मेंरतिराम मिश्रा, एच.ए.एस,खान कुरैशी होतमसिंह गुर्जर, नरेंद्र दुबे, श्रीमती अर्चना मित्तल, संजय तिवारी, महावीर प्रसाद शर्मा, शिवप्रसाद शर्मा, आसिफ पठान, संजय गुहा, मनीष भट्ट जयराज देवड़ा, प्रदीपसिंह पवार, शैलेंद्र खरे रमेश राठौर, प्रदीप कुमार मग, शैलेंद्र खरे,गोपाल सिंह जी जगदीश शर्मा, घनश्याम गुप्ता, संतोष जैन गुरुुजी, मनोज जोशी, प्रमोद वैष्णव, राघवदास वैष्णव, रविंद्रसिंह ठाकुर, प्रेमनारायण पंडित, भैयालाल कनाडे, फिरोज खान, बसंत तिवारी, श्रीमती स्वर्णलता कुमार, श्रीमती देवकी नायक, सीमा राठौर, विजयशंकर पाठक, बलराम पुरोहित, अजय गर्ग, राजेंद्र मालवीय, आदित्य मिश्रा, अमित उपमन्यु, सनत जैन, सुरेन्द्र तिवारी, अशोक गुप्ता, गोविंद तिवारी अभिजीत पांडे, नरेंद्रसिंह चौहान, भरतलाल पाटीदार,सुरेश पाटीदार अशोक रावल, हेमंत गुप्ता, केसरसिंह मालवीय, मनीष जैन, अविष्कार शर्मा, नरेंद्र पेड़वा, मनोज शर्मा, दिलीप कसेरा, अशोक गुप्ता देवेंद्र तोमर,अशोक शर्मा दतिया, मनोहरलाल शर्मा,  राजेंद्र मालवीय के.एन गुप्ता, अनिल हाड़ा, खुर्शीद आलम, दीपक निगम, भगवानसिंह दांगी, के के दुबे, नरेंद्रसिंह,वीरेंद्र चंसौरिया, डीके जैन, जी एस दीक्षित, ब्रजमोहन तिवारी, आनंद दुबे, मनोज ताम्रकार, राजेन्द्र रघुवंशी, कैलाशचंद्र बघेल आदि शामिल है!

इनका कहना है -
प्रदेश के शिक्षक शिक्षण कार्य करने में पीछे नहीं है, लेकिन शिक्षक गैर शिक्षकीय् कार्यों और शिक्षकों को बदहवास करने वाली विभाग की व्यवस्था से नाखुश है, शिक्षा पर एनजीओ आधारित प्रयोग पूरी तरह बंद होना चाहिए, 
-सुरेशचंद्र दुबे प्रांत अध्यक्ष समग्र शिक्षक संघ

-राज्य शिक्षा केंद्र को शिक्षा और राज्य के आर्थिक हित में मर्ज होना चाहिए! साथ ही अधिकारियों की मेहरबानी से प्रदेश भर में फल फूल रहे फर्जी प्राइवेट स्कूल पूरी तरह बंद होना चाहिए.
-मुरारी लाल सोनी शिक्षक प्रतिनिधि

-विश्राम अवकाश अवधि में ड्यूटी कर रहे शिक्षकों को अर्जित अवकाश की पात्रता घोषित करना चाहिए, साथ ही कोरोना महामारी के कार्य में लगे शिक्षकों को विभागीय स्तर से कोरोना योद्धा घोषित करने के संबंध में विभाग को स्पष्ट निर्देश प्रसारित करना चाहिए!
-संजय तिवारी प्रदेश महामंत्री, समग्र शिक्षक संघ

-विभाग लगातार शिक्षकों के अवकाश में कटौती कर रहा है, लेकिन अर्जित अवकाश देने के मुद्दे पर विभाग ने चुप्पी साध रखी है, जिससे शिक्षको में नाराजगी पनप रही है!
-महावीरप्रसाद शर्मा, जिला अध्यक्ष,भोपाल ,समग्र शिक्षक संघ,

17 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

टॉयलेट के तुरंत बाद पानी पीना चाहिए या नहीं, पढ़िए
चक्रवाती तूफान आने वाला है, 7 राज्यों के सैकड़ों शहरों को प्रभावित करेगा 
नए टू व्हीलर्स की हेडलाइट हमेशा ऑन क्यों रहती है
इंदौर के MTH हॉस्पिटल में भर्ती मरीज चौथी मंजिल से कूदा, मौत
MPPEB EXAM DATE: प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ने 11 परीक्षाओं की तारीख घोषित की
कानून में संशोधन के बाद गर्भपात कब-कब अपराध की श्रेणी में आता है, जानिए
महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं, जानिए रहस्य की बात 
ऑनलाइन पर्सनल लोन के लिए आवेदन करते समय क्या करें और क्या नहीं करें
कांग्रेस की गोपनीय लिस्ट ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास पहुंच गई
मध्यप्रदेश में अगले एक महीने में 85000 कोरोना पॉजिटिव की संभावना: स्वास्थ्य विभाग
मस्जिद के लाउडस्पीकर से अजान दूसरों के मूल अधिकारों का उल्लंघन: हाईकोर्ट
शादी के लिए जाति, धर्म या पहचान छुपाने वाले के खिलाफ क्या कार्रवाई होती है
भोपाल में कंटेनमेंट एरिया की नई लिस्ट जारी / BHOPAL CANTONMENT AREA LIST
सीबीएसई 10वीं-12वीं परीक्षा का टाइम टेबल 
कुवैत से भोपाल लौटा छात्र कोरोना पॉजिटिव 7 की स्थिति गंभीर, 3 बार स्क्रीनिंग हुई थी
लॉकडाउन में भाजपा की गुटबाजी ओपन, पूर्वमंत्री और सांसद भी कूदे
जब SUV CAR में हैंडब्रेक होता है तो ट्रेन में क्यों नहीं होता
रहस्यमयी भीमकुंड कहां है जो प्राकृतिक आपदाओं की चेतावनी देता है 
मध्य प्रदेश: 24 सीटों पर चुनाव से पहले भाजपा में बगावत की सुगबुगाहट


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here