Loading...    
   


सिस्टम में चूक बताने वाले कोरोना पॉजिटिव के पीछे पड़ गया प्रशासन, किसी ने गलती नहीं मानी / DAMOH MP NEWS


डाॅ अनिल जैन/दमोह। जिले में कोरोना पाॅजिटिव मरीज के रूप में खाता खोलने वाले तेंदूखेड़ा के ग्राम सर्रा निवासी यशवंत पटेल के द्वारा बनाये गये वायरल वीडियो ने हडकम्प मचा दिया है। सिस्टम में खामी का पता लगाने के लिए प्रोफेशनल्स को हायर किया जाता है परंतु यहां जब एक भुक्तभोगी ने सिस्टम की चूक बताई तो प्रशासनिक अधिकारी उसके पीछे पड़ गए। उसे ही गलत ठहराने लगे। बेतुके तर्क दिए गए लेकिन किसी ने सिर्फ एक सवाल का जवाब नहीं दिया कि जब रिपोर्ट नहीं आई थी तो उसे घर क्यों जाने दिया।

उनके पाॅजिटिव पाये जाने के बाद न उनका परिवार और पूरा गांव तो दहशत में था ही उनके मिलने-जुलने और कदमों को नापने में पूरा प्रशासन और डाक्टर्स भी मैराथन में लगे हुऐ थे। गांव को कंटेनमेंट एरिया घोषित कर छावनी में तब्दील कर दिया गया तथा पूरे परिवार और संपर्क में आये लोगों के सैंपल भेजे गये। इस घटना को चौबीस घंटे भी नहीं हुए थे कि कोरोना पाॅजिटिव मरीज के वायरल वीडियो ने हडकंप मचा दिया।

यशवंत के दावे - 
यशवंत का कहना है कि वह पिछली 10 तारीख को मुबई से गढाकोटा आया और गढाकोटा से गांव पहुंचा। इस बीच उसे किसी भी कोराना यो़द्धा ने छेड़ने की हिमायत नहीं की। चूंकि चारों तरफ खौफ कोराना का है इसीलिये यशवंत का कहना है कि उसने स्वमेव समझदारी दिखाते हुए गांव के ही एक स्कूल में कोरोनटाइन करा दिया। गांव का सचिव मददगार बना उसके बुखार के इलाज के लिये उसकी सलाह पर मरीज तेंदूखेड़ा आया छात्रावास में कोरोनटाइन हुआ। 

12 तारीख को उसका सेंपिल लेकर जांच के लिये भेजा गया। 13 तारीख और 14 तारीख की दोपहर तक मरीज को हल्के में लिया गया और उससे यह कहके की तुम्हें कुछ नहीं हुआ है तुम अपने गांव चले जाओ। उसके गांव चले जाने के बाद जहाॅ वो बेधड़क अपने परिवार और गांव वालो के के बीच रहा और जब साढ़े तीन बजे के आसपास उसकी पाॅजिटिव रिपोर्ट आने के बाद यशवंत को फोन पर कहा जाता है कि तुम्हारी पाॅजिटिव रिपोर्ट आयी है सबसे दूरी बना कर रखे। 

लगभग पाॅच बजे मीडिया से चर्चा में एक मरीज होने की पुष्टि की गयी। इस पूरे मामले पर यशवंत ने स्वास्थ्य विभाग को आड़ेहाथों लिया है और यदि उसके परिवार और गांव में यह संक्रमण फैलता है तो इसका दोष भी स्वास्थ्य विभाग पर मढा है। प्रश्न यह है कि जब चौराहों पर चेक पोस्ट है तो यह मरीज गांव तक कैसे पहुंच गया? दूसरी बात स्वास्थ्य विभाग ने बगैर रिपोर्ट आये छात्रावास से गांव क्यों जाने दिया?

प्रशासनिक अधिकारियों के जवाब

जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ तुलसा ठाकुर ने बताया कि दिन रात काम कर रही उनकी 12 टीम मुख्य मार्गो के चौराहों पर तैनात है। जहाॅ चेक पोस्ट बनाये गये है। वो कैसे बच के निकल गया समझ से परे है। हो सकता है किसी पगडंडियों के राश्ते निकल गया होगा? उन्होंने यशवंत के आरोपों को गलत बताया और कहा कि उसकी सुरक्षा के लिये स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन ने त्वरित कदम उठाये।

सिविल सर्जन डाॅ ममता तिमोरी ने बताया कि मरीज के आरोप निराधार है स्वास्थ्य अमला लगातार ग्राम सर्रा और तेंदूखेड़ा में काम कर रहा है। ग्रामीणों और परिजनों के सैंपल जाॅच को भेजे गय रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहना संभव होगा।

कलेक्टर तरूण राठी ने इस मामले को गंभीरता से लिया है उन्होंने कहा कि ग्राम सर्रा को कंटेनमेंट किया गया है। पूरे परिवार को संरक्षण देकर सुरक्षा की जा रही है। मरीज की सुरक्षा पहली जिम्मेदारी है। यशवंत ने जो वीडियो वायरल किया है बो किसी के बहकाने में आकर किया हुआ लगता है अधिकारी लगातार उसके संपर्क में है।

17 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

टॉयलेट के तुरंत बाद पानी पीना चाहिए या नहीं, पढ़िए
चक्रवाती तूफान आने वाला है, 7 राज्यों के सैकड़ों शहरों को प्रभावित करेगा 
नए टू व्हीलर्स की हेडलाइट हमेशा ऑन क्यों रहती है
इंदौर के MTH हॉस्पिटल में भर्ती मरीज चौथी मंजिल से कूदा, मौत
MPPEB EXAM DATE: प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ने 11 परीक्षाओं की तारीख घोषित की
कानून में संशोधन के बाद गर्भपात कब-कब अपराध की श्रेणी में आता है, जानिए
महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं, जानिए रहस्य की बात 
ऑनलाइन पर्सनल लोन के लिए आवेदन करते समय क्या करें और क्या नहीं करें
कांग्रेस की गोपनीय लिस्ट ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास पहुंच गई
मध्यप्रदेश में अगले एक महीने में 85000 कोरोना पॉजिटिव की संभावना: स्वास्थ्य विभाग
मस्जिद के लाउडस्पीकर से अजान दूसरों के मूल अधिकारों का उल्लंघन: हाईकोर्ट
शादी के लिए जाति, धर्म या पहचान छुपाने वाले के खिलाफ क्या कार्रवाई होती है
भोपाल में कंटेनमेंट एरिया की नई लिस्ट जारी / BHOPAL CANTONMENT AREA LIST
सीबीएसई 10वीं-12वीं परीक्षा का टाइम टेबल 
कुवैत से भोपाल लौटा छात्र कोरोना पॉजिटिव 7 की स्थिति गंभीर, 3 बार स्क्रीनिंग हुई थी
लॉकडाउन में भाजपा की गुटबाजी ओपन, पूर्वमंत्री और सांसद भी कूदे
जब SUV CAR में हैंडब्रेक होता है तो ट्रेन में क्यों नहीं होता
रहस्यमयी भीमकुंड कहां है जो प्राकृतिक आपदाओं की चेतावनी देता है 
मध्य प्रदेश: 24 सीटों पर चुनाव से पहले भाजपा में बगावत की सुगबुगाहट


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here