Loading...    
   


15000 से कम सैलरी वाले प्राइवेट कर्मचारियों को फायदा / EMPLOYEE NEWS

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित किए गए 20 लाख करोड़ के राहत पैकेज में ₹15000 से कम सैलरी वाले प्राइवेट कर्मचारियों को थोड़ा फायदा हुआ है। भविष्य निधि फंड में उनकी सैलरी से 12% पैसा कट कर जमा हो जाता था परंतु आने वाले 3 महीने तक उनके हिस्से का 12% एवं उनके एंपलॉयर के हिस्से का 12% टोटल 24% पैसा सरकार जमा कराएगी। 

प्राइवेट कर्मचारियों की इन हैंड सैलेरी 24% बढ़ जाएगी

सरकार ने 15 हजार से कम वेतन वाले कर्मचारियों और उसके नियोक्ता, दोनों के हिस्से का 12-12% फीसदी रकम ईपीएफ खाते में जमा कराने की स्कीम को तीन महीने के लिए और बढ़ा दिया है। इस प्रकार जिन कंपनियों में 100 से कम कर्मचारी हैं, उनके 15 हजार से कम सैलरी वाले कर्मचारियों को अगस्त तक 24% सैलरी ज्यादा मिल सकेगी। साथ ही सभी कंपनियों के लिए ईपीएफ में कर्मचारियों के मूल वेतन के 12 प्रतिशत कटवाने की जगह इसे 10 प्रतिशत करने की छूट दी गई है। अब अगले तीन महीने तक 12 फीसदी की जगह 10 फीसदी रकम ही कर्मचारी और नियोक्ता की ओर से EPF खाते में जमा होंगे। इससे इनको भी इन हैंड सैलरी 4% अधिक मिलेगी।

TDS कटौती दर 25% कम

हालांकि, इन हैंड सैलरी बढ़ने से कर्मचारियों की टैक्स देनदारी मामूली रूप से बढ़ सकती है। पीएफ में कम पैसा जमा होने से इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80c के तहत आयकर पर छूट का फायदा कम मिलेगा। हालांकि, ऐसे लोगों को चिंता करने की जरूरत नहीं जो अन्य स्रोतों से 80c के तहत डेढ़ लाख रुपये तक की छूट ले सकते हैं। इसके अलावा वित्त मंत्री ने गैर-वेतन भुगतान पर स्रोत पर कर (टीडीएस) और स्रोत पर संग्रह (टीसीएस) में कटौती की दर 31 मार्च 2021 तक के लिए 25% कम करने का भी ऐलान किया है। इससे ऐसे प्रोफेशनलों को फायदा होगा, जो फ्रीलांस या कंसलटेंसी करते हैं। 

14 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

प्रदेश में कोरोना 4000 के पार, इंदौर 2107, भोपाल 864, 42 जिले संक्रमित
इंदौर में डॉक्टर ने बीमार युवती का रेप कर डाला, लॉकडाउन के कारण मौका मिला 
भास्कर लक्षकार IAS पर 150 करोड़ की जमीन घोटाले का आरोप
सिंधिया के साथी 3 दिन के भीतर कांग्रेस में आस्था स्पष्ट करें: रामनिवास रावत
जीवित इंसान पानी में डूब जाता है लेकिन शव तैरता रहता है, ऐसा क्यों, आइए जानते हैं
13 मई-25 जून शुक्र वक्री रहेंगे, पढ़िए आपका जीवन कितना प्रभावित होगा
भोपाल कंटेन्मेंट में लोगों को घरों से निकालकर दूसरी जगह शिफ्ट किया जा रहा है


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here