Loading...    
   


शिवराज सिंह के फोटो वाले आयुर्वेदिक काढ़े का धर्मगुरुओं से प्रचार करवाया / MP NEWS

भोपाल। मात्र 5 मंत्रियों वाली सरकार के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने फोटो वाले आयुर्वेदिक खाड़ी के प्रचार के लिए मंगलवार 28 अप्रैल का काफी समय खर्च किया। उन्होंने कई धर्मगुरुओं से वीडियो कॉन्फ्रेंस पर बात की और अपने फोटो वाले आयुर्वेदिक काढ़े का प्रचार करवाया। सरकारी दस्तावेज में इस कार्यक्रम को 'कोविड-19 की चुनौतियाँ और एकात्म बोध' विषय पर विस्तार से चर्चा, दर्ज किया गया है।

वीडियो कांफ्रेंस पर आध्यात्मिक गुरुओं के सेमिनार का क्या निष्कर्ष निकला यह तो सरकार की तरफ से नहीं बताया गया परंतु मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपनी आदत के अनुसार करीब 40 मिनट का 'शिवराज चालीसा' जरूर सुनाया। आपातकाल के समय ऐसे गैरजरूरी आयोजनों हतोत्साहित करना अनिवार्य है। 

मध्यप्रदेश शासन की ओर से प्रेस को जारी की गई जानकारी में जोर देकर बताया गया कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में आध्यात्मिक गुरुओं ने मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा मध्यप्रदेश में कोरोना पर नियंत्रण और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में आयुर्वेदिक काढ़े के उपयोग की सराहना की। उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों के लिए भी यह आयुर्वेदिक काढ़ा अनुकरणीय होगा। स्वामी अवधेशानंद जी गिरि, स्वामी स्वरूपानंद जी सरस्वती और स्वामी संवित सोम गिरि ने मध्यप्रदेश के इस नवाचार की प्रशंसा की।

नवाचार कैसा, यह तो काफी प्राचीन फार्मूला है


आयुर्वेदिक काढ़े के पैकेट पर अपना फोटो लगाने के बाद शायद शिवराज सिंह चौहान इस आयुर्वेदिक काढ़े को अपनी खोज या अनुसंधान बताने की कोशिश कर रहे हैं। सरकारी प्रेस नोट में इसे नवाचार (इनोवेशन) बताया गया है। जबकि इस आयुर्वेदिक काढ़े का फार्मूला काफी प्राचीन है। इस आयुर्वेदिक काढ़े का फार्मूला बनाने में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान या फिर मध्य प्रदेश के आयुर्वेदिक डॉक्टरों का कोई योगदान नहीं है। वह केवल सरकारी खजाने से एक निर्धारित रकम खर्च करके आयुर्वेदिक काढ़े का पैकेट बनाकर जनता को वितरित कर रहे हैं।

28 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

कार की स्टीयरिंग बीच सेंटर में क्यों नहीं होती, साइड क्यों होती है
yesterday और tomorrow को हिंदी में 'कल' क्यों बोलते हैं, दो अलग-अलग शब्द क्यों नहीं
क्या LAPTOP को बिस्तर पर रखकर चलाने से वह जल्दी खराब हो जाता है, यहां पढ़िए 
बस एक महीना और, सब सामान्य हो जाएगा: इंदौर कलेक्टर 
ग्वालियर में शादी के लिए नए नियम जारी, दूल्हा और दुल्हन अलग-अलग गाड़ियों में जाएंगे
इंदौर: 31 नए पॉजिटिव, टोटल 1207, हाई कोर्ट जज सहित 40 क्वॉरेंटाइन 
ब्रेकिंग! भिड़े की बेटी सोनू का अफेयर टप्पू से नहीं गोली से चल रहा है!
मध्य प्रदेश: 75 नए पॉजिटिव, टोटल 2165, 27वां जिला संक्रमित 
लॉकडाउन में अहमदाबाद से पैदल-पैदल इंदौर पहुंचे 20 लोग 
बहन की मदद के लिए आई युवती का देवर ने दुष्कर्म कर गर्भपात कराया 
प्रधानमंत्री ने लॉक डाउन की चाबी मुख्यमंत्रियों को सौंपी 
कांग्रेस विधायक ने लॉकडाउन में किसानों की सभा करके मुख्यमंत्री को गंदी गालियां दी 
30 अप्रैल को रिटायर हो रहे कर्मचारियों को संविदा नियुक्ति के आदेश
मध्यप्रदेश में कोरोना के मरीजों को आनंद आएगा: सीएम शिवराज सिंह 
डिंडोरी में ताबड़तोड़ फायरिंग की तरह गिरे ओले, दीवारों पर ऐसे निशान जैसे कश्मीर में गोलियों के होते हैं (चौंकाने वाला वीडियो दखें) 
मध्य प्रदेश के कर्मचारियों से कोरोना के नाम पर कोई कटौती ना की जाए: संयुक्त मोर्चा
SC-ST के धनाढ्य लोगों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलना चाहिए: सुप्रीम कोर्ट
INDORE से आकर BHOPAL में छुपी युवती, उसके पिता और दो भाइयों के खिलाफ कोरोना का मामला दर्ज
शिवराज सिंह चौहान फोटो प्रेम के कारण जमकर ट्रोल हो रहे हैं
डिंडोरी में ताबड़तोड़ फायरिंग की तरह गिरे ओले, दीवारों पर ऐसे निशान जैसे कश्मीर में गोलियों के होते हैं (चौंकाने वाला वीडियो दखें)
मोदीजी ने कोरोना से बचने मास्क के बजाय गमछा को प्रमोट क्यों किया, खुद को देसी बताने या बड़ा लॉजिक है
IAS बनना कोई रॉकेट साइंस नहीं है: निशांत जैन 13th रैंक ने कहा
ग्वालियर में शादी के लिए नए नियम जारी, दूल्हा और दुल्हन अलग-अलग गाड़ियों में जाएंगे


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here