Loading...    
   


लॉकडाउन में 60 वर्षीय हेड कांस्टेबल 600 KM पैदल चल कर 16 दिन में उज्जैन पहुंचे | MP NEWS

उज्जैन। कोरोना महामारी के चलते देशभर में लॉकडाउन चल रहा है। 21 दिन के लॉकडाउन के बीत जाने के बाद इसे बढ़ाकर 3 मई तक कर दिया गया है। लॉकडाउन के दौरान कई ऐसी कहानी सामने आई, जहां लोग सैकड़ाें किमी पैदल चल कर अपने घर पहुंचे। एक ऐसा ही वाक्या उज्जैन में भी सामने आया है। यहां नीलगंगा थाने में पदस्थ 60 वर्षीय हेड कांस्टेबल 16 दिन तक पैदल चलने के बाद 500 किमी का सफर तय करके उज्जैन पहुंचे। इस दौरान उन्हें सिर्फ दो दिन खाना नसीब हुआ। बाकी दिन उन्होंने बिस्किट और नमकीन खाकर यात्रा की। पुलिसकर्मी के इस जज्बे की आलाधिकारियों ने भी सराहना की।   

उज्जैन के नीलगंगा थाने में पदस्थ 60 वर्षीय हेड कांस्टेबल रमेश तोमर 21 मार्च को विसरा रिपोर्ट के सिलसिले में उज्जैन से ग्वालियर गए थे। यहां उन्होंने थाने पर रिपोर्ट जमा कर पावती ली और उज्जैन आने के लिए स्टेशन पहुंचे। लॉकडाउन के कारण स्टेशन पर उन्हें घुसने नहीं दिया गया। इसके बाद वे पैदल ही बस स्टैंड पहुंचे, लेकिन कोई बस नहीं थी। इसके बाद चार किमी पैदल चलकर वे अपनी बेटी के घर पहुंचे। बेटी यहां प्रगति विहार कॉलोनी में रहती है। उसने कहा कि पापा दो दिन यहीं रुक जाओ, लॉकडाउन खुलते ही चले जाना। इस प्रकार दो से चार, चार से छह दिन बीत गए, लेकिन लॉकडाउन खुलने के कोई आसार नजर नहीं आए। उन्होंने बेटे को फोन करके बुलाया, लेकिन वह नहीं आ पाया। किसी तरह तोमर बेटे के पास मुरैना पहुंचे। उन्होंने बेटे से कहा कि मुझे उज्जैन तक छोड़ दे, पर उसने कहा कि मैं आपको छोड़कर लौटूंगा तो पुलिस वाले रास्ते में मारेंगे। इसलिए मैं तो नहीं जा पाऊंगा। इस पर मैं पैदल ही मुरैना से उज्जैन के लिए रवाना हुआ।

तोमर ने बताया- मुरैना से उज्जैन तक का करीब 500 से 600 किमी का सफर उन्होंने पैदल ही पूरा किया। इस दौरान उन्हें सिर्फ दो दिन रोटी नसीब हुई। बाकी दिन बिस्किट और नमकीन के सहारे पैदल ही दिन गुजरे। उन्होंने बताया कि घर से जो रोटी वे लेकर चले थे एक दिन वह चल गई। इसके बाद एक दिन उन्हें सरदार का ढाबा दिखा, जहां पर खाना मिल गया। 16 दिन बाद उज्जैन पहुंचे तोमर ने उच्च अधिकारियों को आपबीती सुनाई तो उन्होंने उनकी तारीफ की। वहीं, नीलगंगा क्षेत्र के सिंधी कॉलोनी चौराहे पर ड्यूटी दे रहे पुलिसकर्मियों ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया। ताेमर ने कहा कि यहां पर अधिकारियों ने मेरा उत्साह बढ़ाया। मुझे बहुत अच्छा लगा।


18 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रही खबरें

गृह निर्माण के समय ईटों पानी में क्यों भिगोया जाता है, आइए जानते हैं 
जनसेवा से इंकार करने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया मंत्रिपद के लिए अमित शाह से मिले
24 डिब्बे की एक्सप्रेस ट्रेन की कीमत कितनी होती है 
बिना परमिशन भोपाल से ग्वालियर आया युवक, मामला दर्ज 
MP BOARD: 10वींं और 12वीं की शेष परीक्षाओं का टाइम टेबल तैयार 
गृह मंत्रालय ने लॉक डाउन की गाइडलाइन में परिवर्तन किया 
भारत के 17 राज्यों में बारिश का पूर्वानुमान, पश्चिम की घटाओं ने आधे भारत को घेरा 
काला धन मामले में कमलनाथ के बहनोई एवं भांजे को स्वीटजरलैंड से नोटिस 
भारत के सभी राज्यों में तबलीगी जमात के रोहिंग्या कनेक्शन की जांच के आदेश 
सिंधिया का सिक्का चल गया, 20 से ज्यादा मंत्री शपथ लेंगे, तैयारियां शुरू 
इंदौर में एक जाहिल संक्रमित नोट उड़ाकर CAR से फरार! 
सीएम शिवराज सिंह ने मध्य प्रदेश में जिला व जनपद अध्यक्षों का कार्यकाल बढ़ाया 
मध्य प्रदेश: 146 नए कुल 1310 पॉजिटिव, मृत्यु 69, डिस्चार्ज 68, स्थिर 1136 
ग्वालियर में सरेआम महिला ने कपड़े उतारे, पुलिस और डॉक्टर के सामने हंगामा 
इंदौर: 15 मिनट के अंतराल से दो सर्राफा व्यापारी भाइयों की मौत 
मध्य प्रदेश: लॉक डाउन का मजाक उड़ाने वाले 25 जिलों में संक्रमण 
मप्र में सभी प्रकार के अस्पताल खोलने के आदेश, 1810 में से 188 पॉजिटिव 
MP में 20 अप्रैल से उद्योगों में काम शुरू होगा 
लॉकडाउन में 9 साल की बच्ची के सामने उसकी मां का 5 घंटे तक गैंगरेप


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here