Loading...    
   


इंदौर में 150 रुपये में सब्जी का पैकेट मिलेगा, होम डिलीवरी की जाएगी / INDORE NEWS

इंदौर। कोरोना के लॉकडाउन में प्रशासन ने किसानों और उपभोक्ताओं की समस्या को समझते हुए सब्जियों की खरीदी-बिक्री से बंदिश हटाने की तैयारी कर ली है। इस आपूर्ति व्यवस्था में सब्जी मंडियां तो पहले की तरह ही बंद रहेंगी, लेकिन सब्जी की होम डिलीवरी की जाएगी। प्रशासन ने तय किया है कि 150 रुपये में सब्जी का पैकेट मिलेगा।

किसान से लेकर उपभोक्ता के घर तक सब्जी पहुंचाने के लिए एक पूरी सप्लाई चेन बनाई गई है। इसमें बड़े सब्जी व्यापारी शहर के बाहर ही किसान से सब्जी खरीदकर उसे किराना दुकानों तक पहुंचाएंगे। किराना की ही तरह घर-घर तक सब्जी के पैकेट पहुंचेंगे। यह पूरी आपूर्ति व्यवस्था नगर निगम के अधिकारियों की निगरानी में होगी। पैकेट में ये सब्जियां मिलेंगी जैसे कि एक किलो लौकी, एक किलो टमाटर, आधा किलो भिंडी, 200 ग्राम धनिया, 200 ग्राम मिर्च, 100 ग्राम अदरक और आधा किलो अन्य ऐसी सब्जी जो उपलब्ध हो। इसमें गिलकी, करेला, गाजर, पालक, बैंगन या ककड़ी आदि में से कोई हो सकती है।

पूरी व्यवस्था को जमाने के लिए कलेक्टर मनीषसिंह ने मंडी बोर्ड, मंडी समिति, कृषि व उद्यानिकी अधिकारियों के साथ बैठक की और चोइथराम मंडी के बड़े सब्जी कारोबारियों से चर्चा के बाद इसे अंतिम रूप दिया है। कलेक्टर का कहना है कि सब्जी आपूर्ति के लिए नई व्यवस्था और नया नेटवर्क बनाने के बजाय हम निगम के जरिए किराना सप्लाई की पहले से बनी-बनाई व्यवस्था का ही उपयोग करेंगे।

इससे लॉकडाउन का बेहतर तरीके से पालन भी होता रहेगा और किसानों की सब्जी भी खेतों में खराब नहीं होगी। साथ ही उपभोक्ताओं तक उचित दाम पर सब्जी भी पहुंच जाया करेगी। व्यवस्था से जुड़े सब्जी कारोबारी नवीन भिलवारे ने बताया कि पूरी व्यवस्था के लिए छह-सात बड़े कारोबारियों का चयन किया गया है। सब्जी पैकिंग के सभी सेंटर शहर के बाहर बायपास रोड पर होंगे।

शहर के बाहर बायपास पर बेस्ट प्राइज से लेकर खंडवा रोड पर तेजाजी नगर और राऊ तक छह-सात सब्जी पैकिंग सेंटर बनाए जाएंगे। ये सेंटर सब्जी कारोबारियों द्वारा जगह देखकर तय किए जाएंगे। इसमें निजी स्कूल-कॉलेज परिसर, चोखी ढाणी, गार्डन और अन्य भवन शामिल हैं। किसान इन पैकिंग केंद्रों पर सब्जी लेकर आएंगे। कारोबारी इनसे सब्जी खरीदकर अपने कामगारों से सब्जी के पैकेट बनवाएंगे। इसके बाद यह पैकेट निगम के जोनवार और वार्डवार तय किराना कारोबारियों तक भिजवाए जाएंगे।

नगर निगम की कचरा गाड़ियां जिस तरह से किराना सामान का ऑर्डर ले रही हैं उसी तरह हर वार्ड और कॉलोनी में घर-घर से सब्जी के ऑर्डर ले लेंगी। यह ऑर्डर उस एरिया के लिए चिन्हित किराना कारोबारी तक भिजवा दिए जाएंगे। किराना कारोबारी अपने डिलीविरी बॉय के जरिए सब्जी के पैकेट संबंधित उपभोक्ता तक पहुंचाएंगे। मंडी सचिव मानसिंह मुनिया के मुताबिक, सब्जी कारोबारियों की सूची बना ली गई है। प्रशासन के निर्देश पर जल्द ही यह व्यवस्था शुरू की जाएगी।


28 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

कार की स्टीयरिंग बीच सेंटर में क्यों नहीं होती, साइड क्यों होती है
yesterday और tomorrow को हिंदी में 'कल' क्यों बोलते हैं, दो अलग-अलग शब्द क्यों नहीं
क्या LAPTOP को बिस्तर पर रखकर चलाने से वह जल्दी खराब हो जाता है, यहां पढ़िए 
बस एक महीना और, सब सामान्य हो जाएगा: इंदौर कलेक्टर 
ग्वालियर में शादी के लिए नए नियम जारी, दूल्हा और दुल्हन अलग-अलग गाड़ियों में जाएंगे
इंदौर: 31 नए पॉजिटिव, टोटल 1207, हाई कोर्ट जज सहित 40 क्वॉरेंटाइन 
ब्रेकिंग! भिड़े की बेटी सोनू का अफेयर टप्पू से नहीं गोली से चल रहा है!
मध्य प्रदेश: 75 नए पॉजिटिव, टोटल 2165, 27वां जिला संक्रमित 
लॉकडाउन में अहमदाबाद से पैदल-पैदल इंदौर पहुंचे 20 लोग 
बहन की मदद के लिए आई युवती का देवर ने दुष्कर्म कर गर्भपात कराया 
प्रधानमंत्री ने लॉक डाउन की चाबी मुख्यमंत्रियों को सौंपी 
कांग्रेस विधायक ने लॉकडाउन में किसानों की सभा करके मुख्यमंत्री को गंदी गालियां दी 
30 अप्रैल को रिटायर हो रहे कर्मचारियों को संविदा नियुक्ति के आदेश
मध्यप्रदेश में कोरोना के मरीजों को आनंद आएगा: सीएम शिवराज सिंह 
डिंडोरी में ताबड़तोड़ फायरिंग की तरह गिरे ओले, दीवारों पर ऐसे निशान जैसे कश्मीर में गोलियों के होते हैं (चौंकाने वाला वीडियो दखें) 
मध्य प्रदेश के कर्मचारियों से कोरोना के नाम पर कोई कटौती ना की जाए: संयुक्त मोर्चा
SC-ST के धनाढ्य लोगों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलना चाहिए: सुप्रीम कोर्ट


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here