GWALIOR NEWS- कॉलेजों में कलेक्टर ने धारा 144 लगाई

ग्वालियर
। विद्यार्थियों की 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ 15 सितम्बर से विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में शैक्षणिक कार्य शुरू होगा। साथ ही पुस्तकालय, छात्रावास और मैस भी शुरू किए जा सकेंगे। 

धारा 144 का उल्लंघन करने वाले जेल भेजे जाएंगे: कलेक्टर

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने भारतीय दण्ड संहिता की धारा-144 के तहत आदेश जारी कर निर्देश दिए हैं कि कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए महाविद्यालयों में पठन-पाठन का कार्य संपादित किया जाए। जिला दण्डाधिकारी ने स्पष्ट किया है कि इस प्रतिबंधात्मक आदेश का उल्लंघन भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत दण्डनीय होगा। 

उन्होंने आदेश में उल्लेख किया है कि शैक्षणिक संस्थानों की कक्षाओं, पुस्तकालय, छात्रावास व मैस व्यवस्था का संचालन सुरक्षा संबंधी निर्देशों का पालन करते हुए किया जाए। उल्लेखनीय है कि उच्च शिक्षा विभाग ने स्पष्ट किया है कि केवल वही विद्यार्थी नियमित कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं जिन्होंने कोरोनावायरस वैक्सीन के दोनों डोज लगवा लिए हो।

14 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

CBSE NEWS- परीक्षा फॉर्म भरने के नियम बदले, पेरेंट्स को राहत
DAVV NEWS- स्टूडेंट्स एडमिशन लेने नहीं आ रहे, BEd की 31000 सीटें खाली
MP BOARD- त्रैमासिक परीक्षा का टाइम टेबल जारी, यहां पढ़िए
MP में एक लाख पदों पर भर्ती की प्रक्रिया जल्द शुरू होगी: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह
MP GOVT JOB NEWS- पटवारियों की बंपर भर्ती आने वाली है
MP COLLEGE NEWS- मप्र के सभी विश्वविद्यालयों में एकीकृत पाठ्यक्रम लागू
MP EMPLOYEES NEWS- वित्त मंत्रालय ने DA बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा
मप्र कैबिनेट मीटिंग का आधिकारिक प्रतिवेदन - MP CABINET MEETING OFFICIAL REPORT
MP NEWS- कर्मचारियों के खिलाफ होगी रासुका की कार्रवाई
INDORE NEWS- तिलक नगर में सभी विश्वविद्यालयों की फर्जी मार्कशीट बनाई जाती थी
MP NEWS- कर्मचारियों के प्रमोशन के लिए मंत्री समूह का गठन
MPPEB NEWS- ढाई लाख युवाओं को कभी नौकरी नहीं मिलेगी, गलती पीईबी की, सजा बेरोजगार भुगतेंगे

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiदुनिया की पहली डामर रोड कहां और कब बनी थी
GK in Hindiशेरनी के नुकीले दांतों से शावक घायल क्यों नहीं होते, जब गर्दन पकड़ कर उठाती है
GK in Hindiसोने के सिक्के को मोहर, तो चांदी और तांबे के सिक्के को क्या कहा जाता है
GK in Hindiमछली पानी में रहती है, फिर उसमें से बदबू क्यों आती है
GK in Hindiबिजली के तार को कैसे पता होता है, पंखे को 60 वाट और एसी को 1160 वाट बिजली देना है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here