INDORE NEWS- तिलक नगर में सभी विश्वविद्यालयों की फर्जी मार्कशीट बनाई जाती थी

इंदौर।
भारत का सबसे स्वच्छ शहर इंदौर, जालसाजी और ठगी का घर बनता जा रहा है। तिलक नगर इलाके में पिछले 5 साल से फर्जी मार्कशीट बनाने का अवैध धंधा चल रहा था और किसी को पता ही नहीं चला। एक व्यक्ति ने जब सभी सबूत पुलिस के सामने रख दिए, और कहीं जाकर कार्रवाई की गई। पुलिस की छापामार कार्यवाही में तिलक नगर क्षेत्र से पूरी कंप्यूटर लैब पकड़ी गई है।

पुलिस रिकॉर्ड में फरार चल रहा था सतीश गोस्वामी

क्राईम ब्रांच की टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि तिलकनगर क्षेत्र मे एक व्यक्ति पैसे लेकर फर्जी मार्कशीट व सर्टिफिकेट बनाने का काम करता है। इस संबंध में थाना तिलक नगर में धारा 420,467,468 का प्रकरण भी दर्ज था। मुख्य आरोपी सतीश पिता उमाशकर गोस्वामी उम्र 32 निवासी 32 व्यासपाला जुनी इंदौर फरार था।

फर्जी मार्कशीट का कारोबार इतना बड़ा की पूरी लैब बनानी पड़ी

पुलिस ने तिलक नगर क्षेत्र से आरोपी सतीश गोस्वामी को पकड़ा। आरोपी के कब्जे से 07 मॉनीटर, 06 सीपीयू, 2 प्रिंटर, 14 फर्जी सर्टिफिकेट, 50 मार्कशीट के कोरे कागज व एक मोबाइल फोन, 02 रजिस्टर (जिसमे फर्जी सर्टिफिकेट बनाये हुये कुल 554 नामो का उल्लेख) जप्त किये गये। 07 मॉनीटर, 06 सीपीयू, 2 प्रिंटर यानी अपने आप में पूरी कंप्यूटर लैब बनाई गई थी।

5 साल से चल रहा था फर्जी मार्कशीट बनाने का धंधा

आरोपी ने पुछताछ मे बताया की पिछले 4-5 वर्षो से 10वीं,12वीं, स्नातक की फर्जी मार्कशीट बनाने का कार्य कर रहा था। आरोपी ने महाराष्ट्र बोर्ड ऑफ हायर सेकेण्डरी एजुकेशन, राजस्थान बोर्ड, विलियम केरी युनिवर्सिटी, मेवाड युनिवर्सिटी, सनराईस युनिवर्सिटि, संघाई युनिवर्सिटी, डीआरसीबी रमन युनिवर्सिटी, ओपीजीएस युनिवर्सिटी, एसआरके युनिवर्सिटी, आईसेक्ट युनिवसिटी, आरकेडीएफ युनिवर्सिटी आदि के फर्जी सर्टिफिकेट बनाए।

फर्जी मार्कशीट और सर्टिफिकेट के ऐवज में छात्रों से मोटी रकम वसूली। पूछताछ मे आरोपी ने कुल 554 लोगों को फर्जी संर्टिफिकेट बनाककर दिए और लगभग 1.5 करोड रूपये लिए हैं। आरोपी से पुछताछ जारी है।

13 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MPPEB NEWS- सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी की चयन सूची जारी, यहां पढ़िए
GWALIOR NEWS- चिटनिस की गोठ में LAKME नकली प्रोडक्ट भंडार मिला
MP COLLEGE NEWS- मप्र के सभी विश्वविद्यालयों में एकीकृत पाठ्यक्रम लागू
MP EMPLOYEES NEWS- वित्त मंत्रालय ने DA बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा
SC-ST आयोग की तरह सामान्य वर्ग आयोग बनेगा: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह
BHOPAL NEWS- हलाली डैम में अशोका गार्डन के तीन लड़कों की मौत
MP EMPLOYEE NEWS- डीए के कारण कर्मचारी मुख्यमंत्री से नाराज
JABALPUR DEO ने महिला शिक्षक का डिपार्टमेंट के बाहर ट्रांसफर कर दिया

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiशेरनी के नुकीले दांतों से शावक घायल क्यों नहीं होते, जब गर्दन पकड़ कर उठाती है
GK in Hindiसोने के सिक्के को मोहर, तो चांदी और तांबे के सिक्के को क्या कहा जाता है
GK in Hindiमछली पानी में रहती है, फिर उसमें से बदबू क्यों आती है
GK in Hindiभारत की एक ऐसी जगह जहां आज भी ब्रिटिश सरकार का राज है
GK in Hindiबिजली के तार को कैसे पता होता है, पंखे को 60 वाट और एसी को 1160 वाट बिजली देना है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com