MP NEWS- अलीराजपुर कलेक्टर को डेंगू, इंदौर में भर्ती

इंदौर।
हाल ही में अलीराजपुर कलेक्टर के पद पर ट्रांसफर होकर गए भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी मनोज पुष्प डेंगू बुखार से पीड़ित हो गए हैं। इंदौर के प्राइवेट अस्पताल में अलीराजपुर के कलेक्टर का इलाज किया जा रहा है। सिविल सर्जन ने दावा किया कि अलीराजपुर में स्थिति नियंत्रण में है। सभी मरीजों का इलाज किया जा रहा है। जनता का सवाल है कि यदि स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर हैं तो फिर कलेक्टर इंदौर क्यों गए।

अलीराजपुर के सरकारी रिकॉर्ड में सिर्फ 9 नागरिक डेंगू बुखार से पीड़ित

अलीराजपुर के सिविल सर्जन डा. केसी गुप्ता ने बताया कि कलेक्टर को बुखार आने पर उनकी जांच कराई गई थी। इसमें प्रारंभिक जांच रिपोर्ट में डेंगू की पुष्टि हुई है। इसके बाद से वे इंदौर में उपचार ले रहे हैं। उनकी स्थिति फिलहाल बेहतर है। डा. गुप्ता के अनुसार जिले में अब तक डेंगू के नौ मामले सामने आ चुके हैं। सभी को जिला अस्पताल में उपचार दिया गया। यहां स्वस्थ होने के बाद सभी को डिस्चार्ज कर दिया गया है।

प्रशासन के पास प्राइवेट अस्पताल का डाटा नहीं

सरकारी आंकड़ों में डेंगू के वे ही मरीज दर्ज हैं, जो शासकीय चिकित्सालय में उपचार के लिए पहुंच रहे हैं। बड़ी संख्या में बुखार से पीड़ित लोग सीधे पास के छोटा उदयपुर, दाहोद, बड़ौदा जाकर उपचार करा रहे हैं। इस कारण मरीजों का सही आंकड़ा सामने नहीं आ पा रहा है। ग्रामीण क्षेत्र में कई लोग झोलाछापों के पास जाकर भी इलाज करा रहे हैं। इस कारण बीमारी के बारे में सही जानकारी नहीं मिल पाती।

13 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MPPEB NEWS- सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी की चयन सूची जारी, यहां पढ़िए
GWALIOR NEWS- चिटनिस की गोठ में LAKME नकली प्रोडक्ट भंडार मिला
MP COLLEGE NEWS- मप्र के सभी विश्वविद्यालयों में एकीकृत पाठ्यक्रम लागू
MP EMPLOYEES NEWS- वित्त मंत्रालय ने DA बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा
SC-ST आयोग की तरह सामान्य वर्ग आयोग बनेगा: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह
BHOPAL NEWS- हलाली डैम में अशोका गार्डन के तीन लड़कों की मौत
MP EMPLOYEE NEWS- डीए के कारण कर्मचारी मुख्यमंत्री से नाराज
JABALPUR DEO ने महिला शिक्षक का डिपार्टमेंट के बाहर ट्रांसफर कर दिया

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiशेरनी के नुकीले दांतों से शावक घायल क्यों नहीं होते, जब गर्दन पकड़ कर उठाती है
GK in Hindiसोने के सिक्के को मोहर, तो चांदी और तांबे के सिक्के को क्या कहा जाता है
GK in Hindiमछली पानी में रहती है, फिर उसमें से बदबू क्यों आती है
GK in Hindiभारत की एक ऐसी जगह जहां आज भी ब्रिटिश सरकार का राज है
GK in Hindiबिजली के तार को कैसे पता होता है, पंखे को 60 वाट और एसी को 1160 वाट बिजली देना है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here