BHOPAL EXPRESS में चोर, सुरक्षा में चूक, यात्रियों का सामान चोरी

भोपाल
। भोपाल मंडल का रेलवे विभाग जिस ट्रेन (भोपाल एक्सप्रेस) पर गर्व करता है। जो ट्रेन भोपाल की पहचान बन गई है। जिस ट्रेन को कई अवार्ड मिले हैं। उस ट्रेन में इन दिनों सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम नहीं है। नतीजा यात्रियों के सामान चोरी हो रहे हैं। उल्लेखनीय है कि भोपाल एक्सप्रेस में टिकट की जांच करने वाले स्टाफ से लेकर सिक्योरिटी तक सभी मामलों में स्पेशल इंतजाम किए गए हैं। यह एक ऐसी ट्रेन है जिसमें किसी भी दूसरी ट्रेन की तुलना में रेलवे के ज्यादा कर्मचारी मौजूद होते हैं। कर्मचारी कितने सजग और सक्रिय हैं, इसका पता केवल इसी बात से चल जाता है कि इमरजेंसी होने के बावजूद कोविड-19 के नाम पर बिना रिजर्वेशन के किसी भी यात्री को भोपाल एक्सप्रेस में पैर तक नहीं रखने दिया जाता। सवाल यह है कि चोर किस दरवाजे से अंदर आते हैं। चोरों को ट्रेन में चोरी करने और फरार हो जाने की अनुमति कौन देता है।

भोपाल निवासी सुरेश कुमार परमानी अपनी पत्नी के साथ बीती शाम निजामुद्दीन स्टेशन से भोपाल जाने के लिए भोपाल एक्सप्रेस के स्लीपर कोच एस-4 को सीट नंबर74 पर सवार हुए थे। सफर के दौरान रात मे गहरी नींद में सो गए। इसी बीच ट्रेन के मथुरा से ग्वालियर पहुंचने से पहले कोच में पहुंचे चोर दंपति को गहरी नींद में सोता देख सीट पर रखा लेडिज पर्स जिसमें पन्द्रह सौ रुपए नगदी, मोबाइल व अन्य जरूरी कागजात समेट ले गए। 

लेडिज पर्स व मोबाइल चोरी होने का पता दपंति को ट्रेन के ग्वालियर पहुंचने से पहले लगा वैसे ही दपंती ने चोरी की जानकारी कोच टीटी को दी। कंट्रोल से मिली सूचना पर रनिंग ट्रेन में पहुंचे जीआरपी के जवानों ने चोरों के खिलाफ चोरी का मामला दर्ज कर लिया है। 

उल्‍लेखनीय है कि ट्रेनों में पिछले कुछ समय से चोर सक्रिय हो गए हैंं। हर दूसरे दिन ट्रेनों से मोबाइल व पर्स चोरी होने की शिकायतें जीआरपी को मिल रही हैं। जीआरपी भी केवल मामले दर्ज करती है। कहती है कि चलती हुई ट्रेन में चोरी होने पर चोरों को पकड़ना लगभग नामुमकिन है। बड़ा सवाल यह है कि गस्त करती हुई पुलिस चोरों को ट्रेन में चढ़ने से रोक क्यों नहीं पाती। 

14 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

CBSE NEWS- परीक्षा फॉर्म भरने के नियम बदले, पेरेंट्स को राहत
DAVV NEWS- स्टूडेंट्स एडमिशन लेने नहीं आ रहे, BEd की 31000 सीटें खाली
MP BOARD- त्रैमासिक परीक्षा का टाइम टेबल जारी, यहां पढ़िए
MP में एक लाख पदों पर भर्ती की प्रक्रिया जल्द शुरू होगी: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह
MP GOVT JOB NEWS- पटवारियों की बंपर भर्ती आने वाली है
MP COLLEGE NEWS- मप्र के सभी विश्वविद्यालयों में एकीकृत पाठ्यक्रम लागू
MP EMPLOYEES NEWS- वित्त मंत्रालय ने DA बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा
मप्र कैबिनेट मीटिंग का आधिकारिक प्रतिवेदन - MP CABINET MEETING OFFICIAL REPORT
MP NEWS- कर्मचारियों के खिलाफ होगी रासुका की कार्रवाई
INDORE NEWS- तिलक नगर में सभी विश्वविद्यालयों की फर्जी मार्कशीट बनाई जाती थी
MP NEWS- कर्मचारियों के प्रमोशन के लिए मंत्री समूह का गठन
MPPEB NEWS- ढाई लाख युवाओं को कभी नौकरी नहीं मिलेगी, गलती पीईबी की, सजा बेरोजगार भुगतेंगे

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiदुनिया की पहली डामर रोड कहां और कब बनी थी
GK in Hindiशेरनी के नुकीले दांतों से शावक घायल क्यों नहीं होते, जब गर्दन पकड़ कर उठाती है
GK in Hindiसोने के सिक्के को मोहर, तो चांदी और तांबे के सिक्के को क्या कहा जाता है
GK in Hindiमछली पानी में रहती है, फिर उसमें से बदबू क्यों आती है
GK in Hindiबिजली के तार को कैसे पता होता है, पंखे को 60 वाट और एसी को 1160 वाट बिजली देना है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here