Loading...    
   


JABALPUR: 7 दिन से लापता छात्रा का कोई सुराग नहीं, हत्या की आशंका - MP NEWS

जबलपुर।
मध्य प्रदेश में जबलपुर जिले के गोसलपुर थाना क्षेत्र के ग्राम जुझारी स्थित शांति नगर में रहने वाली 12 वर्षीय बालिका प्रिया काछी विगत 6 मई को रहस्यमय तरीके से गायब हो गई। बालिका के लापता होने की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर पुलिस द्वारा आसपास के गाँवों, तालाब, नदियों में उसकी तलाश कराई गई लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग सका है।   

वहीं एक सप्ताह का समय बीत जाने के बाद भी बालिका का सुराग नहीं लगने पर परिजनों की बैचेनी बढ़ती जा रही है। परिजन बच्ची को अगवा कर उसकी हत्या करने का आरोप लगा रहे हैं। इस संबंध में टीआई संजय भलावी ने बताया कि जुझारी शांति नगर निवासी सूरज काछी ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 6 मई को प्रिया दोपहर में अचानक कहीं चली गई। काफी देर तक वह वापस नहीं लौटी तो परिजनों ने आस-पड़ोस व गाँव में उसकी तलाश की लेकिन उसका कुछ पता नहीं चलने पर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई।

मामला दर्ज कर बच्ची की पतासाजी के प्रयास शुरू किए गए लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग सका। बच्ची के रहस्यमय तरीके से गायब होने की घटना की जानकारी लगने पर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा व SDOP सिहोरा श्रुतकीर्ति सोमवंशी ने बच्ची के परिजनों से पूछताछ की और उन्हें ढांढस बँधाते हुए बच्ची की तलाश कराने का भरोसा दिलाया था लेकिन एक सप्ताह से अधिक समय बीतने के बाद बच्ची का सुराग नहीं लगने पर परिजन बच्ची की हत्या व अनहोनी घटना की आशंका जता रहे हैं।

पुलिस द्वारा लापता बच्ची प्रिया की माँ लक्ष्मी काछी पति ब्रजलाल काछी निवासी गांधीग्राम धमकी से पूछताछ की गई। जिसमें लक्ष्मी ने पुलिस को बताया कि प्रिया जब 1 साल की थी तब उसे उसकी मौसी अनीता पति सूरज काछी ने गोद ले लिया था और उसके बाद से 11 साल से वह अपनी मौसी-मौसा के पास ही रहती थी। इस दौरान उसने कभी किसी तरह की कोई शिकायत नहीं की।

सूत्रों के अनुसार लापता बालिका का सुराग लगाने के लिए 5 टीमें लगाई गई हैं। इनमें थाने के अलावा सिहोरा खितौला पुलिस जाँच कर रही है साथ ही साइबर व क्राइम की टीमें भी बालिका की पतासाजी में जुटी हैं लेकिन अब तक उसका कोई सुराग नहीं लग सका है। पुलिस द्वारा ग्रामीणों व करीबियों से पूछताछ कर प्रिया को खोजने के प्रयास किए जा रहे हैं।

14 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here