Loading...    
   


INDORE लॉकडाउन कैसे और कब खुलेगा, कलेक्टर ने बताया

indore lockdown kab tak chalega kab khulega

इंदौर। मध्य प्रदेश के 40 जिले दिनांक 1 जून से कर्फ्यू से मुक्त हो जाएंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चाहते हैं कि इस लिस्ट में सबसे पहला नाम इंदौर का हो। इसी के चलते 10 दिन का टोटल लॉकडाउन लगा दिया गया है लेकिन कलेक्टर मनीष सिंह ने संकेत दिए हैं कि दिनांक 1 जून से मध्य प्रदेश के अन्य जिलों के साथ इंदौर भी स्टेप बाय स्टेप कर्फ्यू से मुक्त कर दिया जाएगा। 

कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि दिनांक 1 जून से राशन की दुकान खोलने की अनुमति दी जाएगी। हो सकता है कि यह सीमित समय के लिए हो। 
उम्मीद है कि इंदौर में निर्माण कार्यों पर लगे प्रतिबंध खत्म कर दिए जाएंगे। 
थोक बाजार में भी शर्तों के साथ राहत दी जा सकती है। 
रेस्टोरेंट में बैठकर खाने की सुविधा पर लगा प्रतिबंध लागू रहेगा परंतु टेकअवे फैसिलिटी की परमिशन दी जा सकती है। 
सबसे पहले थोक बाजार को ओपन किया जाएगा इसके बाद फुटकर बाजार की बारी आएगी। 
इंदौर के जिन वार्डों में या फिर भीड़भाड़ वाले इलाकों में संक्रमण की स्थिति बनेगी उस इलाके को कंटेनमेंट जोन बना दिया जाएगा। 

इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि स्थिति में तेजी से सुधार हो रहा है। मुख्यमंत्री चाहते हैं कि 1 जून से कर्फ्यू में ढील दी जाए। फिलहाल इंदौर का पॉजिटिविटी रेट 22% से गिरकर 9% रह गया है परंतु कर्फ्यू खोलने के लिए इसका 5% से नीचे जाना जरूरी है। 

कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि चोइथराम मंडी समेत अन्य मंडी को बंद करना जरूरी था, क्योंकि वहां स्वरूप को सुधारा नहीं जा सकता। ग्रामीण और शहरी दोनों ही क्षेत्रों में संक्रमण है। शहर की स्थिति तो बेहतर हो गई है। ऐसे में तय किया गया, यदि 1 जून से शहर को खोलना है, तो कुछ दिन की सख्ती जरूरी है।

21 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here