GWALIOR: नेवी के DM की लापता बेटी की लाश रेलवे ट्रैक पर मिली - MP NEWS

ग्वालियर। 
नेवी के डिप्टी मैनेजर की 10 साल की बेटी GT एक्सप्रेस में सीट पर सोते समय अचानक गायब हो गई। रहस्यमय हालात में बच्ची के लापता होने पर पिता परेशान हो गया। घटना शनिवार-रविवार दरमियानी रात बीना से ललितपुर के बीच में हुई है। बेबस पिता ने चेन पुलिंग की तो ट्रेन में मौजूद पुलिस ने धमका दिया।  

झांसी में उतरकर FIR कराना चाही तो पुलिस जवानों ने गुमराह कर दिया। आधी रात ग्वालियर स्टेशन पर उतरकर बेटी गायब होने की सूचना दी। रात भर तलाश किया। रविवार दोपहर मासूम का शव ललितपुर स्टेशन से कुछ आगे जखौरा के पास पटरियों पर पड़ा मिला है। मासूम सोते में गेट से गिरी है या किसी गंभीर घटना की शिकार हुई है यह जांच की जा रही है। UP मथुरा निवासी 32 वर्षीय शिवसिंह पुत्र हरीसिंह जाट इंजीनियर है और अभी नेवी में डिप्टी मैनेजर की पोस्ट पर पदस्थ हैं। अभी उनकी पोस्टिंग आन्ध्र प्रदेश के नेल्लोर में है। 

एक दिन पहले वह नेल्लोर से GT एक्सप्रेस में अपनी 10 साल की बेटी तान्या (बदला हुआ नाम) के साथ कोच S-9 में 49 नंबर सीट पर सवार हुए थे। उन्हें नेल्लोर से मथुरा जान था। भोपाल निकलने के बाद बीना स्टेशन पर उन्होंने बेटी के साथ खाना खाया। इसके बाद अपनी सीट के पास ही एक खाली सीट पर बेटी को सुला दिया। बीना निकलने के बाद शिवसिंह की भी झपकी लग गई। ललितपुर स्टेशन पर जब ट्रेन पहुंची तो उनकी नींद टूटी। देखा तो सीट से उनकी बेटी तान्या लापता थी। यहां उन्होंने कोच में काफी तलाश किया। जब बच्ची नहीं मिली तो चेन पुलिंग की। चेन पुलिंग पर ट्रेन में मौजूद RPF के बल ने उनको झांसी में FIR दर्ज कराने के लिए कहा। 

झांसी जब ट्रेन पहुंची तो कुछ पुलिस जवानों ने उन्हें भ्रमित कर दिया कि झांसी में ट्रेन कम रूकती है ग्वालियर में बड़ा स्टॉपेज है वहां आसानी से FIR दर्ज करा देना। पीड़ित पिता ग्वालियर स्टेशन पर उतरा और GRP को मामले की सूचना दी। ग्वालियर GRP ने रात 2 बजे अपहरण का मामला दर्ज कर केस डायरी ललितपुर पहुंचा दी।

नेवी का डिप्टी मैनेजर रात भर पागलों की तरह जिस बेटी को तलाशता रहा रविवार दोपहर 12 बजे के लगभग उसका शव ललितपुर स्टेशन के पास जखौरा नामक जगह पर रेलवे लाइन के किनारे पड़ा मिला है। स्थानीय पुलिस ने शव को निगरानी में लेकर GRP पुलिस को सूचना दी। इसके बाद डिप्टी मैनेजर परिवार सहित वहां पहुंचा है। बच्ची के सिर और शरीर में कई जगह चोट है। पुलिस पता लगा रही है कि हादसा किन परिस्थितियों में हुआ।

घटना के हालात बेहद संदिग्ध

घटना के हालात बेहद संदिग्ध हैं। सीट पर सो रही 10 साल की बच्ची का शव रेलवे लाइन पर बाहर पड़ा मिलना समझ से परे है। पुलिस को आशंका है कि वह नींद से जागने के बाद बाथरूम के लिए गई होगी। नींद में होने के कारण गेट तक पहुंची और हादसे का शिकार हो गई। उसके साथ कोई गंभीर घटना घटी हो इससे भी इनकार नहीं किया जा सकता है। जांच की जा रही है।

30 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here