Loading...    
   


BHOPAL NEWS - कोरोना और ब्लैक फंगस के खिलाफ अभियान, स्मार्ट सिटी कार्यालय में विचार-मंथन

भोपाल
। चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा है कि कोरोना टेस्टिंग के लिये अभियान बनाकर काम किया जाये। मोबाइल यूनिट हर जोन में जगह-जगह जाकर टेस्टिंग अभियान शुरू करे। इसके लिये लोगों को पहले से पूर्व सूचना भी दी जाये। किसी घर में हुई मृत्यु की दशा में अथवा पॉजिटिव मरीज के परिजनों की टेस्टिंग अनिवार्यत: की जाये। मंत्री श्री सारंग ने मंगलवार को स्मार्ट सिटी कार्यालय में कोरोना नियंत्रण के उपायों पर विचार-मंथन किया।

श्री सारंग ने कहा कि यह अभियान 7 दिन तक चलाया जाये। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में भी विशेष ध्यान दिया जाये। इसके लिये ग्रामीण क्षेत्र में 15 और शहरी क्षेत्र में 20 मोबाइल यूनिट द्वारा टेस्टिंग कार्य किया जाये। श्री सारंग ने कहा कि ब्लैक फंगस की रोकथाम के लिये अगले तीन दिन ईएनटी चिकित्सकों के सहयोग से मुहिम शुरू की जायेगी। मेडिकल कॉलेज में ब्लेक फंगस के मरीज की केस स्टडी एकत्र की जायेगी। इससे यह मालूम किया जायेगा कि यह लक्षण ग्रामीण अथवा शहरी, किस क्षेत्र में ज्यादा हैं। आगे इसकी रोकथाम के लिये यह स्टडी काम आयेगी। 

उन्होंने कहा कि ब्लेक फंगस को लेकर राज्य सरकार ने सबसे पहले काम करना शुरू किया। अगले 3 दिन प्रदेश में ब्लेक फंगस की प्राथमिक पहचान की जायेगी। हर मेडिकल कॉलेज को निर्देश दिये गये हैं कि जो व्यक्ति नेजल एण्डोस्कोपी करवाना चाहते हैं, उनकी जाँच करें। इसके मरीजों के लिये कोविड और नॉन कोविड ऑपरेशन थियेटर की सुविधा अलग-अलग उपलब्ध कराने को कहा गया है।

बैठक में प्रमुख सचिव खाद्य श्री फैज अहमद किदवई, कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया, नगर निगम आयुक्त श्री के.व्ही.एस. चौधरी, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री विकास मिश्रा और भोपाल स्मार्ट‍ सिटी के सीईओ श्री आदित्य सिंह उपस्थित थे।

18 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here