Loading...    
   


BHOPAL में टोटल लॉकडाउन का फैसला कलेक्टर करेंगे

भोपाल
। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल शहर में टोटल लॉकडाउन का फैसला कलेक्टर पर छोड़ दिया है। इससे पहले माना जा रहा था कि सोमवार 12 अप्रैल से कम से कम 19 अप्रैल तक भोपाल में टोटल लॉकडाउन किया जाएगा क्योंकि इंदौर किया जा चुका है। 

मध्य प्रदेश में लॉकडाउन का नाम बदला, कोरोना कर्फ्यू कहां जाएगा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पूरे प्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगाया जा रहा है। भोपाल में कोरोना कर्फ्यू बढ़ाने का फैसला कलेक्टर पर छोड़ा गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा पूर्व से घोषित लॉकडाउन को अब कोराेना कर्फ्यू नाम दिया है। हालांकि उन्होंने नहीं बताया कि नाम बदलने से क्या होगा।

टोटल लॉकडाउन (कोरोना कर्फ्यू) में किस किसको छूट मिली

रविवार को कोरोना पर हुई समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने बताया कि अन्य राज्य से आवागमन पर रोक नहीं है। मेडिकल और राशन की दुकानें, अस्पताल, नर्सिंग होम, बैंक, एटीएम, दूध, सब्जी की दुकानें, उद्योगों में मजदूर- माल आदि के आवागमन पर प्रतिबंध नहीं है। उद्योग चलते रहेंगे। परीक्षा केंद्रों में जाने वाले विद्यार्थी, अन्य स्टाफ, एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड, दूरसंचार, बिजली सप्लाई, रसोई गैस सेवाएं भी चालू रखी गई हैं। कैब सेवाएं जारी रहेंगी।

बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन एयरपोर्ट से आने जाने वाले नागरिक, आईटी कंपनियां बीपीओ, मोबाइल कंपनियों की यूनिट्स, अखबार वितरण, होटल (जिनमें रूम इन डाइनिंग हैं), उन पर प्रतिबंध नहीं है। इससे पहले राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए प्रदेश के हालातों की समीक्षा की। इस बैठक में मुख्यमंत्री के अलावा धर्मगुरु भी शामिल हुए।

11 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here