Loading...    
   


BF तो दरिंदा निकला, दोस्तों से गैंगरेप करवाया, मालेगांव से किडनैप कर पुणे, दिल्ली और औरैया में रेप

उज्जैन
। 15 साल की नाबालिग लड़की के साथ जो कुछ हुआ उसके बाद शायद ही वह अपनी जिंदगी में कभी सामान्य हो पाएगी। जिस लड़के को उसने अपना बॉयफ्रेंड माना, उसी ने उसको किडनैप कर लिया। पुणे, दिल्ली और औरैया में ना केवल खुद रेप किया बल्कि अपने दो दोस्तों से भी गैंगरेप करवाया। किडनैपिंग के बाद लड़की को पता चला कि जिसे वह मोहित के नाम से जानती है, असल में माहिद है।

मालेगांव में मोहित ने बहला-फुसलाकर किडनैप कर लिया

हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने ना केवल इस मामले का खुलासा किया है बल्कि माहिद को चतुराई के साथ उज्जैन बुलाकर पहले जमकर पीटा और फिर पुलिस के हवाले कर दिया। पीड़ित लड़की ने बताया कि उसकी उम्र 15 साल है एवं बड़वानी मध्य प्रदेश की रहने वाली है। वह महाराष्ट्र के मालेगांव में थी जब उसकी मुलाकात आरोपी लड़के से हुई। लड़के ने अपना नाम मोहित बताया था। मीठी-मीठी बातों के झांसे में लेकर उसका ब्रेनवाश किया और फिर उसे बहला-फुसलाकर किडनैप कर लिया गया। 

मोहित तो माहिद निकला, दो दोस्तों के साथ मिलकर गैंगरेप किया

पीड़ित लड़की ने बताया कि किडनैपिंग के बाद मोहित ने अपना असली रंग दिखाया। असल में वह माहिद है और उत्तर प्रदेश के औरैया का रहने वाला है। माहिद उसे अपने साथ महाराष्ट्र के पुणे फिर उत्तर प्रदेश के औरैया और अंत में दिल्ली लेकर गया। इस दौरान उसके अलावा उसके दो दोस्त कमाल और खुर्शीद ने भी गैंग रेप किया। विरोध करने पर एसिड से जला देने की धमकी देते थे। लड़की ने बताया कि इन लोगों का एक गैंग है। यह लोग छोटे बच्चों को किडनैप करते हैं। उनके साथ बेरहमी से मारपीट करते हैं।

गैंगरेप से गर्भवती हो गई तो दिल्ली से वापस उज्जैन भेज दिया

पीड़ित लड़की ने बताया कि जब वह गर्भवती हो गई तो माहिद ने उसे एक बस में बिठा कर उज्जैन भेज दिया। उज्जैन में उसकी बहन रहती है। यहां पर गर्भावस्था पूरी होने के बाद लड़की ने सरकारी अस्पताल में एक दिव्यांग बच्चों को जन्म दिया जिसकी मृत्यु हो गई। पीड़ित लड़की के पास ही एक और लड़की भर्ती थी, उसकी पहचान हिंदू जागरण मंच के लोगों से थी। उसी पड़ोसी लड़की ने हिंदू जागरण मंच के लोगों को सारी कहानी बताइए।

माहिद को उज्जैन बुलाकर पीटा और फिर पुलिस को सौंप दिया

हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने चतुराई के साथ पीड़ित लड़की की माहिद से फोन पर बात कराई और उसे उज्जैन बुला लिया। उज्जैन आते ही माहिद को सबसे पहले तो जमकर पीटा गया और फिर पुलिस के हवाले कर दिया गया। देवास गेट पुलिस ने माहिद को हिरासत में लिया है। इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर ASI रशीद खान का कहना है कि फिलहाल मामले को जांच में लिया गया है। पूरा मामला बड़वानी और अन्य शहरों का है, इसलिए जीरो पर कायमी करवा कर बड़वानी भेजा जा रहा है।

01 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here