Loading...    
   


दुनिया का सबसे तेज दौड़ने वाला कछुआ, गिनीज बुक में दर्ज है रिकॉर्ड - GK IN HINDI

कछुआ और खरगोश की कहानी तो सभी ने सुनी होगी। मोरल ऑफ द स्टोरी सब लोग अपने अपने हिसाब से बताते हैं परंतु अपने यहां उस कहानी पर डिस्कस करने नहीं आए। अपन यह पता लगाने आए हैं कि खरगोश 40 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से दौड़ता है तो कछुआ की स्पीड कितनी होती है। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दो रिकॉर्ड कछुओं के नाम दर्ज है। पहला 1977 में और दूसरा 2014 में दर्ज किया गया। 

दुनिया का सबसे तेज दौड़ने वाला कछुआ, नाम एवं पता

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में सबसे तेज दौड़ने वाले कछुए का पहला रिकॉर्ड सन 1977 में दर्ज किया गया था। 2014 में उसके रिकॉर्ड को तोड़ दिया गया। दुनिया के सबसे तेज दौड़ने वाले कछुए का नाम BERTIE है और यह डरहम की एडवेंचर वेली में रहता है। इसने 100 मीटर की दूरी मात्र 6 मिनट में पूरी कर ली। यानी 1 घंटे में 1 किलोमीटर। जबकि सामान्यत: कछुए 270 मीटर प्रति घंटा की स्पीड से दौड़ते हैं। बर्टी नाम का कछुआ दूसरे कछुओं की तुलना में 4 गुना तेजी से दौड़ता है। 

कछुए का कवच कैसे बनता है और कितना मजबूत होता है 

प्रकृति ने सुरक्षा के लिए हमेशा कवच बनाए हैं। प्राचीन काल में मनुष्य ने प्रकृति से सीखकर युद्ध भूमि में हत्यारों से सुरक्षा के लिए कवच पहनना शुरू किए। दुनिया में सबसे मजबूत कवच कछुए का माना जाता है। यह 60 तरह की हड्डियों से मिलकर बना होता है। बंदूक की गोली से भी कछुए का कवच नहीं टूटता। पूरी प्रकृति में सिर्फ बाज नाम का पक्षी ऐसा है जो कछुए का कवच तोड़ देता है। वह कछुए को अपने पंजो में लेकर बहुत ऊपर उड़ जाता है और फिर उसे वहाँ से पत्थरों या पहाड़ियों पर गिरा देता है जिससे उसका कवच टूट जाता है। 

कछुए का कवच / skeleton of Tortoise

जिस प्रकार मनुष्य के शरीर में हृदय और फेफड़ों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए पसलियों का पिंजडा (Rib cage) पाया जाता है। ठीक उसी तरह कछुए के शरीर के बाहर इन्हीं पसलियों से विकसित होकर, एक कवच (Outer skeleton)  बन जाता है। जो कि कैल्शियम कार्बोनेट और केरोटिन प्रोटीन का बना होता है। यह  कवच 2 परतों का बना होता है। अंदर वाला हिस्सा प्लास्ट्रोन ( Plastron ) तथा बाहर वाला हिस्सा कैरापस (carapace) कहलाता है। यह दोनों हिस्से आपस में एक ब्रिज की तरह फ्यूज्ड रहते हैं। Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article 

सामान्य ज्ञानः कुछ मजेदार जानकारियां

(current affairs in hindi, gk question in hindi, current affairs 2019 in hindi, current affairs 2018 in hindi, today current affairs in hindi, general knowledge in hindi, gk ke question, gktoday in hindi, gk question answer in hindi,)


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here